विदेश से आने वाले दो लोगों का जीनोम सीक्विंसिंग जांच में डेल्टा वैरियंट की हुई पुष्टि

20

कोविड डेल्टा वैरियंट कोई नया वैरियंट नही = डा. केपी त्रिपाठी
भास्कर न्यूज़
लखनऊ। राजधानी में कोविड -19 संक्रमण व डेंगू रोग के प्रभावी नियंत्रण को लेकर डा केपी त्रिपाठी उपमुख्य चिकित्साधिकारी ने मंगलवार को बताया कि सितम्बर माह में 1 दुबई एवं 1 यूएसए से आये हुए व्यक्ति के कोविड धनात्मक होने के उपरान्त उनकी एवं उनके कान्टैक्ट की जीनोम सीक्विंसिंग केजीएमयू से करायी गयी थी,

जिसकी रिपोर्ट केजीएमयू द्वारा उपलब्ध करायी गयी।जिसमें कोविड का डेल्टा वैरियंट पाया गया, कोई भी नया वैरियट नही पाया गया। कोरोना की दूसरी लहर में लखनऊ में ज्यादातर मरीज डेल्टा वैरियंट से प्रभावित थे । वहीं डीएन शुक्ला जिला मलेरिया अधिकारी ने कल्याणपुर क्षेत्र का भ्रमण किया। इसके अतिरिक्त नगर मलेरिया इकाई एवं जिला मलेरिया

अधिकारी की टीम ने शंकरपुरवा, फैजुल्लागंज, भवानीगंज, राजाजीपुरम, अयोध्या दास-2, त्रिवेणीनगर, गोमतीनगर वार्ड के आसपास के क्षेत्रों का भ्रमण किया। भ्रमण के दौरान क्षेत्रीय जनता को घर के आसपास पानी जमा न होने, पानी से भरे हुए बर्तनों एवं टंकियों को ढक कर रखने, कुछ समय अन्तराल पर कूलर को खाली करके साफ कपडे से पोछ

कर सूखा एवं साफ करने के बाद ही पुनः प्रयोग में लाने, पूरी बाह के कपडे पहनने, बच्चों को घर से बाहर न निकलने एवं मच्छर रोधी क्रीम लगाने एवं मच्छरदानी में रहने तथा डेंगू एवं मच्छर जनित रोगो से बचाव के लिए ‘‘क्या करें, क्या
न करें’’ सम्बन्धी स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान की गयी। मंगलवार को चन्दरनगर, अलीगंज, इन्दिरानगर, टूडियागंज आदि क्षेत्र में कुल 7 डेंगू धनात्मक रोगी पाये गये। कुल 2468 घरों तथा विभिन्न मच्छरजनित स्थितियों का सर्वेक्षण किया गया और कुल 47 घरों में मच्छरजनित स्थितियां पाये जाने पर नोटिस जारी किया गया।