वसीम रिज़वी के खिलाफ गुस्सा, किसी ने घर के बाहर पढ़ी कुरान तो किसी ने थाने में दी तहरीर- Lucknow Anger against Wasim Rizvi Someone read the Quran outside the house and someone complained in the police station nodbk

76

और इस प्रदर्शन में सभी धर्मों के लोगों से जुड़ने की अपील की गई है.

शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद नकवी (Maulana Kalbe Jawad Naqvi) ने कहा कि वसीम रिज़वी इस्लाम और शिया समाज से खारिज हैं. रिज़वी के खिलाफ लखनऊ के बड़े इमामबाड़े पर रविवार 14 मार्च को बड़ा प्रदर्शन होगा और सरकार से उसकी गिरफ्तारी की मांग की जाएगी.

लखनऊ. शिया वक़्फ़ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi) के कुरान में कुछ आयतों को हटाए जाने के मसले में सुप्रीम कोर्ट में की गई पीआईएल के खिलाफ देशभर में इनके खिलाफ लोगों में गुस्सा और नाराजगी है. शनिवार को राजधानी लखनऊ (Lucknow) में वसीम रिजवी के घर के बाहर कुछ लोगों ने कुरान (Quran) पढ़कर वसीम रिजवी का विरोध किया तो किसी ने राजधानी लखनऊ के चौक कोतवाली में वसीम रिजवी के खिलाफ शिकायत करके उन्हें हिस्ट्रीशीटर बताया. भारतीय इंसानियत फोरम के बैनर तले आज दर्जनों लोगों ने वसीम रिजवी के राजधानी लखनऊ में स्थित घर के बाहर कुरान हाथों में लेकर तिलावत की और अनोखा विरोध प्रदर्शन किया.

भारतीय इंसानियत फोरम के अध्यक्ष जीशान खान ने कहा वसीम रिजवी की इस हरकत से दुनिया भर में भारत का नाम खराब हो रहा है. इसीलिए हम भी वसीम का विरोध कर रहे हैं. वहीं, राजधानी लखनऊ के चौक कोतवाली में भाजपा नेता अमील शम्सी ने वसीम रिजवी के खिलाफ तहरीर दी. अमीर शम्सी ने कहा के वसीम रिजवी हिस्ट्रीशीटर हैं और इसके खिलाफ सैकड़ों मुकदमे दर्ज हैं. और शिया वक्फ बोर्ड में भ्रष्टाचार के चलते केंद्र सरकार ने उनके खिलाफ सीबीआई जांच भी शुरू की है. वहीं, वरिष्ठ धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद ने भी रविवार को दोपहर 2:00 बजे वसीम रिजवी के खिलाफ बड़े इमामबाड़े पर एक विशाल प्रदर्शन करने का ऐलान किया है और इस प्रदर्शन में सभी धर्मों के लोगों से जुड़ने की अपील की गई है.

वसीम रिज़वी इस्लाम और शिया समाज से खारिज हैं
शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद नकवी ने कहा कि वसीम रिज़वी इस्लाम और शिया समाज से खारिज हैं. रिज़वी के खिलाफ लखनऊ के बड़े इमामबाड़े पर रविवार 14 मार्च को बड़ा प्रदर्शन होगा और सरकार से उसकी गिरफ्तारी की मांग की जाएगी. मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि इस विरोध प्रदर्शन में सभी उलमा शामिल हो, क्योंकि यह कुरान का मामला है और कुरान सबका है. मौलाना ने बताया कि उन्होंने इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया मौलाना खालिद रशीद, नदवा, जमात ए इस्लामी हिन्द, फिरंगी महल समेत कई उल्मा को आमन्त्रित किया है.






Source link