योगी सरकार की बड़ी पहल, यूपी में खुलेगा देश का पहला 3D तकनीक पर आधारित वर्चुअल मॉल

31

यूपी में खुलेगा देश का पहला 3D तकनीक पर आधारित वर्चुअल मॉल (File photo)

एमएसएमई व खादी ग्रामोद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव (ACS) डा. नवनीत सहगल ने बताया कि वर्चुअल एग्जीविशन मॉल को थ्रीडी तकनीकी का होगा.

लखनऊ. योगी सरकार (Yogi Government) राज्य में देश का पहला वर्चुअल एग्जीविशन मॉल खोलने की योजना पर काम कर रही है. यह मॉल ऑनलाइन कारोबार का यह ऐसा फोरम होगा जहां पर क्रेता-विक्रेता अपनी सुविधा के मुताबिक किसी भी समय उत्पादों की खरीद-बिक्री कर सकेंगे. इस एग्जीविशन (प्रदर्शनी) में ओडीओपी, एमएसएमई, खादी ग्रामोद्योग तथा राज्य के अन्य लोकप्रिय हस्तशिल्प व उत्पाद बिक्री के लिए प्रदर्शित किए जा सकेंगे. बीते महीनों में समय समय पर कारोबारी सुगमता के लिए आयोजित वर्चुअल एग्जीविशन, वर्चुअल सेमिनार, लोन मेला आदि को मिली सफलता के बाद ऑनलाइन कारोबार के लिए एक स्थाई प्लेटफार्म बनाने की दिशा में यह पहल शुरू की गई है.

मॉल में लगेंगे 500 स्टाल
प्रदेश के सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यम, खादी ग्रामोद्योग तथा निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह के मुताबिक इस ऑनलाइन प्लेटफार्म पर एक बार में कम से कम 500 स्टाल के प्रदर्शन का प्रबंध किया जाएगा. क्रेता और विक्रेता ऑनलाइन संवाद भी स्थापित कर सकेंगे. इस मॉल में स्टालों के आवंटन में चक्रीय व्यवस्था लागू की जाएगी.

अखिलेश यादव की प्रेस कांफ्रेंस में हंगामा, पत्रकारों से बदसलूकी, न्यूज 18 का रिपोर्टर घायल, VIDEOउन्होंने बताया कि स्टालों का आवंटन शिल्पकार, कारीगर, उत्पादक या निर्यातक को एक तय समय सीमा के लिए किया जाएगा. अवधि समाप्त होने पर दूसरों को मौका दिया जाएगा. सिंह के मुताबिक, इस प्लेटफार्म का सबसे अधिक लाभ निर्यातकों को होगा. विदेशी खरीदार आसानी से मॉल के माध्यम से अपने पसंद के उत्पाद का आर्डर कर सकेंगे.

थ्रीडी तकनीक का होगा इस्तेमाल
एमएसएमई व खादी ग्रामोद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव डा. नवनीत सहगल ने बताया कि वर्चुअल एग्जीविशन मॉल को थ्रीडी तकनीकी का होगा. इस प्रदर्शनी में लगने वाले स्टालों पर प्रदर्शित उत्पाद खरीदारों को बहुत ही स्पष्ट पूरी गुणवत्ता के साथ नजर आएंगे.






Source link