मेहुल चोकसी ने यहां लगाया है PNB स्कैम का पैसा, ED की पूछताछ में खुलासा : Mehul Choksi has invested money in PNB scam here revealed in EDs inquiry

73

मेहुल चोकसी पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में वांछित है. इस मामले की जांच कर रही ईडी को हिलिंगडन  होल्डिंग लिमिटेड नाम की कंपनी का पता चला. 

मेहुल चोकसी (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली:

मेहुल चोकसी पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में वांछित है. इस मामले की जांच कर रही ईडी को हिलिंगडन  होल्डिंग लिमिटेड नाम की कंपनी का पता चला. पीएनबी स्कैम का पैसा मेहुल चोकसी ने अपनी पत्नी प्रीति कोठारी के नाम पर दुबई में कंपनियां और जायदाद बनाने में निवेश किया है. यह जानकारी एन्फोर्समेंट डिरेक्टोरेट यानी ईडी की जांच में सामने आई है. यूएई में मेहुल चोकसी की कंपनी एशियन डायमंड एन्ड ज्वेलरी ने 391.48 करोड रूपये और एक करोड बीस लाख हिलिंगडन होल्डिंग लिमिटेड कंपनी मे 2014 में जमा किए. 

हिलिंगडन  होल्डिंग लिमिटेड कंपनी 24 नवंबर 2013 को दुबई में रजिस्टर्ड की गई. इसकी मालकिन प्रिती कोठारी है जो मेहुल चोक्सी की पत्नी है. इस जांच में और एक कंपनी का नाम सामने आया. गोल्डहाॅक डीएमसीसी. इस कंपनी के नाम पर दुबई में तीन जायदाद खरीदे गए.  जिसकी कीमत भारतीय करन्सी में बाईस करोड चव्वन लाख पन्द्रह हजार पांच सौ बीस रूपए है. गोल्डहाॅक डीएमसीसी की एकमात्र शेयरधारक हिलिंगडन होल्डिंग लिमिटेड कंपनी है जिसकी मालकिन प्रीति कोठारी है. इस जांच से पता चला है की मेहुल चोक्सी ने पीएनबी स्कैम का कुछ हिस्सा अपनी पत्नी के नाम कंपनीया  स्थापित कर दुबई में भेजा. अब ईडी मेहुल की पत्नी को पीएनबी स्कैम में आरोपी बनाने की कार्रवाई कर रही है.

अब डोमिनिका ने भी चोकसी को प्रतिबंधित अप्रवासी घोषित कर दिया है. चोकसी पर डोमिनिका में अवैध तरीके से घुसने का आरोप लगा है. डोमिनिका के राष्ट्रीय सुरक्षा और गृह मामलों के मंत्रालय द्वारा जारी नोटिस के अनुसार मेहुल चोकसी को 25 मई को एक प्रतिबंधित अप्रवासी घोषित किया गया था. मंत्रालय ने पुलिस को आप्रवासन और पासपोर्ट अधिनियम की धारा 5(1)(1) के तहत चोकसी को ‘डोमिनिका के राष्ट्रमंडल से हटाने’ का निर्देश दिया था.

डोमिनिका में प्रवेश की अनुमति नहीं का नोटिस
अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स के अनुसार मंत्रालय ने उसी दिन चोकसी को एक अलग नोटिस भी भेजा, जिसमें भगोड़े कारोबारी को बताया गया कि उसे ‘डोमिनिका में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है.’ नोटिस में कहा गया है कि पुलिस को निर्देश दिया गया है कि आपको वापस भेजने के लिए सभी आवश्यक कार्रवाई करें.’ इससे एक बात साफ हो जाती है कि डोमिनिका सरकार की नोटिस चोकसी के वकील विजय अग्रवाल के उस दावे को खारिज करती है, जिसमें कहा गया था कि उनका मुवक्किल प्रतिबंधित अप्रवासी नहीं है और उसका अपहरण हुआ था. गौरतलब है कि गत 23 मई को चोकसी एंटीगुआ एवं बारबुडा से रहस्यमयी परिस्थितियों में लापता हो गया था तथा उसे पड़ोसी देश डोमिनिका में अवैध प्रवेश करने पर पकड़ा गया था.



संबंधित लेख

First Published : 11 Jun 2021, 06:29:31 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.


Source link