मिशन 2022 को लेकर CM योगी ने संभाली कमान, पार्टी पदाधिकारियों से लिया फीडबैक

43

बैठक में सीएम योगी ने कोरोना की दूसरी लहर में जनप्रतिनिधियों की सक्रियताकी जानकारी ली.

सीएम योगी ने गोरखपुर में सर्किट हाउस में जनप्रतिनिधियों के साथ तीन घंटे से अधिक समय तक मैराथन बैठक की. गोरखपुर से भाजपा के विधायक और सांसद मौजूद थे.

गोरखपुर. मिशन 2022 की तैयारियों को लेकर सीएम योगी भी चुनावी मोड में आ गए हैं. सरकार और संगठन में समन्वय बनाने साथ ही सरकार के कामों को जनता तक पहुचाने की कमान खुद सीएम योगी ने संभाल ली है. गुरुवार को सर्किट हाउस में सीएम योगी ने तीन घंटे से अधिक समय तक मैराथन बैठक की. सबसे पहले जनप्रतिनिधियों के साथ सीएम योगी ने बैठक की जिसमें गोरखपुर से भाजपा के विधायक और सांसद मौजूद थे. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सूबे में ‘ट्रेस, टेस्ट एवं ट्रीट’ की नीति प्रभावी ढंग से जारी रहेगी. कोरोना की संभावित तीसरी लहर से मुकाबले के लिए जनप्रतिनिधियों को जनता के बीच संवाद बढ़ाना होगा. उन्होंने अपील की कि जनप्रतिनिधि कोविड टीकाकरण केंद्रों का निरीक्षण करें. अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें. सरकार द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों से लोगों को जोड़े, सरकार की उपलब्धियों से भी जनता को अवगत कराएं.

बैठक में सीएम योगी ने कोरोना की दूसरी लहर में जनप्रतिनिधियों की गतिविधियों और सक्रियताओं की जानकारी ली. उन्होंने जनप्रतिनिधियों के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोद लिए जाने पर कहा कि यदि वहां कुछ और संसाधन की आवश्यकता है तो अपनी निधि से उसकी पूर्ति कराएं. सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार बच्चों को निशुल्क दवाई किट उपलब्ध कराने का विशेष अभियान शुरू कर रही है. 20 जून से निशुल्क खाद्यान वितरण शुरू करने जा रही है. जल्द ही ‘उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना’ का लाभ भी मिलने लगेगा. इसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ मिल सके, पात्रता के लिए आय सीमा को 02 लाख रुपये प्रति वर्ष से बढ़ा कर 03 लाख रुपये प्रति वर्ष कर दिया गया है.

जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक के बाद सीएम योगी ने भाजपा की क्षेत्रीय और जिला की टीम के साथ साथ वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की. इस बैठक में भी सीएम योगी ने पार्टी पदाधिकारियों से फीडबैक लिया. साथ ही उन्हे निर्देशित किया कि जनता के लिए सरकार द्वारा जो काम किए जा रहे हैं, उन्हें जनता तक पहुंचाया जाए. इसके बाद सीएम योगी ने महापौर और पार्षदों के साथ बैठक की. इस बैठक में भी शहर में सरकार द्वारा कराये जा रहे विकास कार्यों की प्रगति के बारे में जाना.







Source link