माइग्रेन के दर्द से रहते हैं परेशान तो इन घरेलू नुस्खों को अपनाएं, जरूर मिलेगा आराम Migraine treatment home remedies

241
माइग्रेन (Migraine) एक न्‍यूरोलॉजिकल कंडीशन (Neurological Condition) है जिसमें सिर में तेज दर्द (Headaches) और भारीपन रहता है. कई बार माइग्रेन की वजह से लोगों को उल्‍टी, चक्‍कर आना, झुनझुनी लगना, शरीर का कोई हिस्‍सा सुन्‍न हो जाना और तेज आवाज व रौशनी में दिक्‍कत जैसी समस्‍याएं (Health Problem) होने लगती है. हेल्‍थलाइन के मुताबिक, हालांकि यह किसी भी उम्र के लोगों को अपनी चपेट में ले सकता है लेकिन महिलाएं माइग्रेन की ज्‍यादा शिकार बनती हैं. इसके अलावा अगर माता या पिता में किसी को माइग्रेन की शिकायत रही है तो यह संभव है कि बच्‍चे भी इसकी चपेट में आ जाएं.

क्‍यों होता है माइग्रेशन

आज तक किसी भी शोध में यह पक्‍की जानकारी नहीं मिली कि आखिर इसके होने की वजह क्‍या है. लेकिन यह किन वजहों से बढ़ता है यह बताया जा सकता है. हेल्‍थलाइन के मुताबिक ब्रेन में मौजूद कैमिकल सेरोटोनिन जब निश्चित लेवल से कम होने लगते हैं तब माइग्रेन ट्रिगर करता है. इसके अलावा, तेज रौशनी में ज्‍यादा देर तक रहना, अत्‍यधिक गर्मी, डीहाइड्रेशन, बोरोमेट्रिक प्रेशर में बदलाव, हार्मोनल चेंज, प्रेगनेंसी, महिलाओं में पीरिएड, अत्‍यधिक स्‍ट्रेस, तेज आवाज, सोने की कमी, अल्‍कोहल का सेवन, स्‍मोकिंग आदि इसकी वजह हो सकती है.

इसे भी पढ़ें : ये हैं उल्‍टी रोकने के 11 कारगर उपाय, जो तुरंत देंगे आराम

 

क्‍या है उपाय

अगर आप क्रोनिक माइग्रेन से ग्रस्‍त हैं तो आपको डॉक्‍टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए. हालांकि भोजन और लाइफ स्‍टाइल में बदलाव लाकर भी कुछ राहत पाया जा सकता है, साथ ही कुछ घरेलू उपायों (Home Remedies) को अपनाकर भी आप इसके दर्द से बच सकते हैं.

क्‍या हैं घरेलू उपाय

-जब भी माइग्रेन का दर्द उठे, बर्फ के चार क्यूब्स को रूमाल में लपेटकर इसे सिर पर रखें. करीब 15 मिनट तक ऐसा करें. इससे आपको सिरदर्द में काफी आराम महसूस होगा.

-रोज सुबह खाली पेट छोटा सा गुड़ का टुकड़ा मुंह में रखें और ठंडे दूध के साथ इसे पी जाएंं. रोज सुबह इसके सेवन से माइग्रेन के दर्द में काफी आराम मिलता है.

-अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा दांतों के बीच दबा लें और उसे चूसते रहें. माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद करेगा.

-दालचीनी को पीसकर इसका पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को माथे पर करीब आधे घंटे तक लगाकर रखें. दर्द से राहत मिलेगी .

इसे भी पढ़ें : सर्वाइकल स्पॉन्डिलाइटिस के दर्द से हैं परेशान, तो करें ये उपाय, तुरंत दिखेगा असर

-लौंग के पाउडर में नमक मिलाकर इसे दूध के साथ पी लें.

-तेज रोशनी से भी माइग्रेन का दर्द होता है. ऐसे में माइग्रेन की समस्या होने पर तेज रोशनी से जितना हो सके, बचना चाहिए.

-शोर शराबे से दूर शांत कमरे में सोएं. पूरी और अच्छी नींद लेने पर माइग्रेन की समस्या में आराम मिलता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link