बीजेपी और शिवसेना के जंग का मैदान: दिंडोशी का खेल मैदान या राजनीतिक मैदान! शिवसेना ने कहा, करेंगे निर्माण कार्य – disppute between shivsena and bjp intensified over dindoshi ground issue

15

मुंबई,राजकुमार सिंह
मालाड दिंडोशी स्थित म्हाडा का खेल मैदान इन दिनों बीजेपी और शिवसेना के जंग का मैदान बन गया है। शिवसेना यहां निर्माण कार्य करना चाहती है, जिसका स्थानीय लोग विरोध कर रहे हैं। लोगों के विरोध का बीजेपी ने समर्थन किया है। यहां के पूर्व विधायक राजहंस सिंह ने चुनौती दी है कि किसी भी हालत में शिवसेना को यह भूखंड हड़पने नहीं देंगे, जबकि शिवसेना के सांसद गजानन किर्तीकर ने कहा है कि कोरोना खत्म होते ही वहां पर निर्णय कार्य शुरू करेंगे।

बता दें कि फायर ब्रिगेड और चाफेकर चौक से सटकर ही म्हाडा का करीब 40,000 वर्गफीट का खेल मैदान है, जहां लोग जॉगिंग करते हैं। इस मैदान के एक कोने में किर्तीकर समाज कल्याण केंद्र बनाना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने नवंबर 2020 में एक बैठक बुलाई। बैठक में स्थानीय लोगों ने निर्माण का विरोध किया। किर्तीकर को कदम पीछे लेना पड़ा। बीजेपी के पूर्व नगरसेवक ज्ञानमूर्ति शर्मा कहते हैं कि 5 साल पहले जब वे नगरसेवक थे, तब उन्होंने 60 लाख रुपये खर्च कर मैदान की दीवार बनवाई थी। अब वहां जॉगिंग के साथ ही खेल-कूद और सांस्कृतिक कार्यक्रम होते हैं।

पुलिस की सुरक्षा में भूमिपूजन
समाज कल्याण केंद्र का विरोध होने पर किर्तीकर ने योगशाला बनाने का निर्णय लिया। गुढीपाडवा पर पुलिस की सुरक्षा में उन्होंने भूमिपूजन किया। म्हाडा के एक अधिकारी ने बताया कि सांसद फंड से 80 लाख रुपये खर्च कर 2,000 वर्ग फुट में योगशाला का प्रस्ताव है। कीर्तिकर स्वीकार करते हैं कि विरोध के चलते निर्माण कार्य 1,000 वर्गफीट में होगा। हालांकि उन्होंने इसे राजनीतिक विरोध बताया

Source link