बार बार जा रही थी बिजली, जांच करने खुद खंभे पर चढ़ गए ऊर्जा मंत्री और फिर…

46

बार-बार होती बिजली ट्रिपिंग के निरीक्षण पर निकले ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर जांच करने के लिए खुद बिजली के खंभे पर चढ़ गए.

Written By : विनोद शर्मा | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 19 Jun 2021, 01:11:01 PM

बार बार जा रही थी बिजली, जांच करने खुद खंभे पर चढ़ गए ऊर्जा मंत्री (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • अजब एमपी का गजब मंत्री प्रद्युम्न तोमर
  • उनके अंदाज को देख लोग फिर हैरान हुए
  • खुद बिजली के खंभे पर चढ़ गए ऊर्जा मंत्री
  • ट्रांसफार्मर पर लिपटी हुई बेल को खुद हटाया

ग्वालियर:

मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के अंदाज इतने अलग हैं कि अब उन्हें अजब एमपी का गजब मंत्री कहा जाता है. वे कभी अस्पतालों में औचक निरीक्षण करने पहुंच जाते हैं तो कभी सोते हुए कर्मचारियों को जगाते हुए नजर आते हैं. ऐसा ही कुछ हुआ शुक्रवार को, जब उनके एक अंदाज देखकर लोग फिर हैरान हो गए. बार-बार होती बिजली ट्रिपिंग के निरीक्षण पर निकले ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर जांच करने के लिए खुद बिजली के खंभे पर चढ़ गए. उन्होंने बिजली के खंभे पर चढ़कर ट्रांसफार्मर पर लिपटी हुई बेल को खुद हटाया. साथ ही तारों पर लटके कूड़े भी नीचे फेंका.

यह भी पढ़ें : देश के लिए इतना बड़ा बलिदान देने को तैयार हैं ये बच्चे, पीएम मोदी से की मजेदार अपील 

इस दौरान ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने ये जता दिया कि बिजली विभाग के कर्मचारी छोटी-छोटी चीजों पर ध्यान दें तो बार-बार ट्रिपिंग से जनता को परेशान नहीं होना पड़ेगा. यह वाकया उनके अपने ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के मोतीझील इलाके का है. ट्रांसफार्मर पर लगी बेल, कचरे के ढेर और झाड़ को हटाने के बाद मंत्री ने कहा कि जहां भी ट्रिपिंग होगी वहां भी इसी तरह औचक निरीक्षण करेंगे. उन्होंने इस दौरान सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है इन छोटी छोटी चीजों पर ध्यान रखा जाए, समय पर लाइन मेंटिनेंस व्यवस्था और साफ सफाई नियमित रूप की जाए.

उन्होंने कहा कि यह छोटे-छोटे सकारात्मक प्रयास ही व्यवस्थाओ के बदलाव में महत्वपूर्ण होते है. मैं हर कार्य को स्पर्श कर उसकी अनुभूति और अनुभव के साथ सीखने समझने की कोशिश करता हूं. उन्होंने कहा कि समस्त समाज को अपने विचार और कर्मो से क्या सकारात्मक संदेश दे सकते हैं. बस इन्ही भावनाओं के साथ मैंने नित-प्रतिदिन अपनी कमियों के सुधार के लिए सजग और संकल्पित रहना सीखा है. आज क्षेत्र भृमण के दौरान मोतीझील स्थित ट्रांसफार्मर के आसपास और लाइन पर जमा कचरे को साफ कर अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए.

यह भी पढ़ें : ममता बनर्जी ने सोशलिज्म से रचाई शादी, साधारण तरीके से हुआ आयोजन

उन्होंने कहा कि मेरा विद्युत विभाग के प्रमुख सचिव, तीनों कम्पनियों के मुख्य प्रबंधक को मेरा निर्देश है कि समूचे मध्यप्रदेश में जहां-जहां ट्रिपिंग होगी. वहां यह जनता का सेवक खड़ा होकर व्यवस्थाओं को दुरुस्त करेगा. जनता जनार्दन को कोई असुविधा का सामना न करना पड़े. गरीब के घर तक निर्बाध रूप से बिजली पहुंचे यही हमारा लक्ष्य है.

गौरतलब है कि प्रद्युम्न तोमर लगातार जनता के बीच पहुंचते हैं और उनकी समस्याओं को सुनते हैं. कई बार वह खुद ही कार्य करने में लग जाते हैं. बीते दिनों ग्राहक की शिकायत पर कार्रवाई नहीं हुई तो ऊर्जा मंत्री ने खुद शिकायतकर्ता से बात की और इसके बाद कर्मचारियों का इंक्रीमेंट रोकने का निर्देश दिया. इससे पहले भी वह अपने ऐसे ही कामों की वजह से चर्चाओं में आ चुके हैं.



संबंधित लेख

First Published : 19 Jun 2021, 12:48:56 PM

For all the Latest Viral News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.


Source link