प्रतापगढ़: सपा नेता की करोड़ों की अवैध संपत्ति कुर्क, 50 से अधिक मुकदमों में है आरोपी | pratapgarh-uttar-pradesh-2 – News in Hindi

88

सभापति यादव के घर पर कुर्की की नोटिस चस्पा करते अधिकारी

सपा नेता व जिला पंचायत सदस्य सभापति यादव (Sabhapati Yadav) के अवैध तरीके से बनवाए गए इंटर और डिग्री कालेज साथ ही चिल्ड्रेन स्कूल को भी कुर्क (Attach) कर लिया गया है. कुर्की की कार्रवाई से पहले घर पर नोटिस चस्पा करके मुनादी भी करवाई गई. सभापति यादव पर लूट-हत्या समेत पचासों मुकदमें दर्ज हैं.

प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश भर में योगी सरकार (Yogi Government) के निर्देश पर हिस्ट्रीशीटर अपराधियों की धर-पकड़ और उनकी अवैध संपत्तियां कुर्क करने का अभियान लगातार चलाया जा रहा है. इसी क्रम में आज प्रतापगढ़ के सपा नेता और जनपद के टॉप अपराधियों की सूची में दर्ज सभापति यादव (Sabhapati Yadav) पर पुलिस और प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए करोड़ों की संपत्ति को कुर्क कर लिया है.

घर पुलिस ने चस्पा की नोटिस
रिपोर्ट के मुताबिक प्रतापगढ़ में सपा नेता सभापति यादव की करोड़ो की अवैध संपत्ति को पुलिस-प्रशासन ने कुर्क कर दिया है. पुलिस के मुताबिक सभापति यादव की गिनती जिले के टॉप 10 अपराधियों में होती है. इनकी पत्नी ब्लॉक प्रमुख हैं. बताया जा रहा है कि प्रतापगढ़ में आसपुर देवसरा थाने के टॉप 10 अपराधी और सपा नेता सभापति यादव की 1 करोड़ 61 लाख रुपये कीमत की संपत्ति को कुर्क किया गया है. आसपुरदेवसरा थाना के बिनौका गांव में आज एसडीएम पट्टी, एएसपी पूर्वी कई थानों की फोर्स के साथ सभापति यादव के कालेज पहुंचे साथ ही सभापति यादव के घर पुलिस ने नोटिस चस्पा करते हुए खुद ही मुनादी कराई. जिसके बाद पुलिस और प्रशासन ने उनके आरपीजे यादव इंटर और डिग्री कालेज को कुर्क कर दिया. साथ ही उनके चिल्ड्रेन स्कूल को भी कुर्क किया गया. प्रशासन ने सपा नेता के तीन कालेज जिसकी कीमत 1.61 करोड़ की संपत्ति को कुर्क किया.एसडीएम का कहना था कि ये कार्रवाई 14 (1) के तहत जिलाधिकारी के आदेश पर की गयी है. सपा नेता पर आरोप है कि उन्होंने करोड़ों की संपत्ति गैर-कानूनी तरीके से अर्जित की है.

ये भी पढ़ें- भदोही MLA विजय मिश्र ने वीडियो जारी कर बताया जान को खतरा, पुलिस पर लगाए ये आरोप

सभापति यादव पर दर्ज हैं पचासों मुकदमे
प्रतापगढ़ के आसपुर देवसरा थाने के बिनौका गांव के निवासी सभापति यादव की गिनती शातिर बदमाशों में होती है. इसकी पत्नी आसपुर देवसरा ब्लॉक प्रमुख हैं जबकि वह खुद जिला पंचायत सदस्य है. इसके विरुद्ध प्रतापगढ़,जौनपुर समेत कई जिलों में लूट, हत्या समेत कई धाराओं में 50 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं.
हालांकि इन अभियानों को लेकर विपक्ष लगातार यूपी सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रहा है. स्थानीय सपा नेताओं का आरोप है कि भाजपा के इशारे पर राजनीतिक बदले की कार्रवाई के तहत जिला प्रशासन ने संपत्ति कुर्क करने का काम किया है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here