पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित 20 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज, पत्रकारों से बदसलूकी का आरोपFIR lodged against samajwadi party chief akhilesh yadav and 20 other in moradabad upns

69

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित 20 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज (File Photo)

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के कार्यकर्ताओं ने पत्रकारों पर पक्षपात करने का आरोप लगाया. मीडियाकर्मियों पर हमले से पत्रकारों में भारी रोष देखने को मिला.

मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में राज्‍य के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की प्रेस कॉन्फ्रेंस में हुई मारपीट मामले में नया मोड़ सामने आया है. मुरादाबाद में अखिलेश यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. उनके खिलाफ पत्रकार से मारपीट के मामले में IPC की धारा 147, 342 और 323 के तहत मुकदमा दर्ज किया है. उधर, सपा जिला अध्यक्ष जयवीर सिंह यादव ने भी पत्रकारों पर मामला दर्ज कराया है. पुलिस ने धारा 160/341/ 332/353/ 504/499/120 B के तहत दो नामजद पत्रकारों पर मामला दर्ज किया है.

दरअसल, सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव गुरुवार को मुरादाबाद पहुंचे थे. वहां वे विधायक मोहम्मद फहीम के घर पहुंचे. इस दौरान पूर्व मंत्री और एसपी कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक देखने को मिली. फिर प्रेस कांफ्रेंस के बाद अखिलेश यादव के सामने ही सपा कार्यकर्ताओं का दंगल देखने को मिला. इस धक्का-मुक्की में न्यूज 18 के पत्रकार भी फंस गए, उन्हें भी चोटें आई है. हंगामे के दौरान कई पत्रकारों के मोबाइल, कैमरे भी टूटे.

प्रेस कांफ्रेंस के बाद मचा हंगामा
इसके बाद अखिलेश यादव ने मुरादाबाद के ही एक होटल में प्रेस कांफ्रेंस थी. यहां एक पत्रकार के सवाल-जवाब में अखिलेश यादव ने कहा कि कभी सवाल बीजेपी से भी पूछ लिया करो? क्या बीजेपी के ही सवाल पूछोगे? इसके बाद प्रेस कांफ्रेंस समाप्त हुई और कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया. इस दौरान अखिलेश यादव के सामने ही समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और सुरक्षाकर्मियों ने अचानक मीडियाकर्मियों पर हमला कर दिया और होटल से खदेड़ने लग गए. समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पत्रकारों पर पक्षपात करने का आरोप लगाया. मीडियाकर्मियों पर हमले से पत्रकारों में भारी रोष देखने को मिला.सपा कार्यकर्ताओं का दंगल

इससे पहले, अखिलेश यादव से मिलने के लिए होटल के बाहर एसपी कार्यकर्ताओं का जमावड़ा था. पूर्व कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर भी मौके पर मौजूद थे. कार्यकर्ताओं ने अखिलेश से मिलने के पूर्व कैबिनेट मंत्रो को भी नहीं बख्शा और पूर्व मंत्री के साथ भी धक्का-मुक्की शुरू कर दी. इस दौरान पूर्व मंत्री और एसपी कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक भी देखने को मिली. फिर प्रेस कांफ्रेंस के बाद अखिलेश यादव के सामने ही सपा कार्यकर्ताओं का दंगल देखने को मिला. इस धक्का-मुक्की में न्यूज 18 के पत्रकार भी फंस गए, उन्हें भी चोटें आई हैं. हंगामे के दौरान कई पत्रकारों के मोबाइल, कैमरे भी टूटे. इस दौरान लोग अखिलेश यादव तक भी पहुंच गए. सुरक्षाकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी. (रिपोर्ट- फरीद शम्सी)






Source link