नौकरी वापस पाने के लिए सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने कर डाला यह काम, पहुंच गया हवालात Software engineer breaks into the company’s database to get the job back, reaches jail

60

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को अपनी पूर्व कंपनी के डेटाबेस में कथित तौर पर सेंध लगाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस

Bhasha | Updated on: 25 Jul 2020, 08:19:31 AM

नौकरी वापस पाने के लिए कंपनी के डेटाबेस में लगाई सेंध, पहुंच गया जेल (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को अपनी पूर्व कंपनी के डेटाबेस में कथित तौर पर सेंध लगाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. आरोपी इंजीनियर की लॉकडाउन के दौरान नौकरी चली गई थी और इसे वापस पाने के लिए उसने चुनिंदा सूचनाएं हटाने की खातिर कथित सेंधमारी (हैकिंग) की.

यह भी पढ़ें: किडनैपिंग केस: पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार, बच्चा बरामद

पुलिस उपायुक्त (उत्तर-पश्चिमी) विजयंत आर्य ने कहा कि निजी कंपनी के सीईओ की ओर से दर्ज करायी गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की और आईपी एड्रेस का पता लगाया. पुलिस ने पुराना मौजपुर निवासी विकेश शर्मा को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया. शर्मा ने पुलिस को बताया कि वह कंपनी में वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर कार्यरत था और वेतन के मामले में समझौता नहीं करने के बाद उसे निकाल दिया गया था.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस होने के संदेह में एक अधिकारी ने उठाया यह खौफनाक कदम, जानकर हैरत में पड़ जाएंगे आप

उपायुक्त ने कहा कि कंपनी को वित्तीय संकट में डालने के लिए आरोपी ने कई मरीजों का विवरण हटा दिया ताकि कंपनी उसे वापस काम पर रखने को मजबूर हो जाए. आर्य के मुताबिक, आरोपी ने करीब 18,000 मरीजों की जानकारी और करीब तीन लाख मरीजों के बिलों से संबंधित विवरण हटा दिया. इसके अलावा, आरोपी ने करीब 22,000 फर्जी विवरण डाल दिए.


First Published : 25 Jul 2020, 08:19:31 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here