धनबाद जज हत्याकांड में पोस्ट मार्टम से हुआ ये बड़ा खुलासा, आरोपियों का होगा नार्को टेस्ट – In Dhanbad judge murder case, this big disclosure was done from the post mortem, the accused will have narco test

44

हाल ही में हुए धनबाद के जज हत्याकांड मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. जहां हत्या की साजिश को दुर्घटना का रूप देने की कोशिश की गई थी और एक ऑटो से टक्कर मारकर जज की हत्या की गई थी. उनके मौत की ये गुत्थी अभी तक सुलझ नहीं पाई.

News Nation Bureau | Edited By : Rajneesh Pandey | Updated on: 04 Aug 2021, 08:39:52 AM

DHANBAD JUDGE MURDER CASE (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • धनबाद के जज हत्याकांड मामले में एक बड़ा खुलासा
  • गिरफ्तार आरोपियों के नार्को टेस्ट के लिए कोर्ट ने दी मंजूरी
  • सीबीआई जांच की सिफारिश कर चुके हैं सीएम हेमंत सोरेन

नई दिल्ली:

हाल ही में हुए धनबाद के जज हत्याकांड मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. जहां हत्या की साजिश को दुर्घटना का रूप देने की कोशिश की गई थी और एक ऑटो से टक्कर मारकर जज की हत्या की गई थी. उनके मौत की ये गुत्थी अभी तक सुलझ नहीं पाई . हालांकि इस बीच आई उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट (Post-Mortem Report) से बड़ा खुलासा हुआ है और बड़ी बात सामने आई है. जिसके अनुसार, न्यायाधीश उत्तम आनंद का जबड़ा और सिर की हड्डी कई जगहों पर टूटी हुई थी. इसके अलावा शरीर पर तीन जगह बाहरी चोट और सात जगह पर अंदरुनी चोट लगी है. वहीं, सिर पर गंभीर चोट लगने के बाद वे सड़क किनारे गिर पड़े थे और उनकी मौत हो गई थी. इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों के नार्को टेस्ट के लिए भी कोर्ट द्वारा मंजूरी दे दी गई है.

यह भी पढ़ें : नागपुर में मानवता शर्मसार, नाबालिग लड़की से 2 घंटे में दो बार गैंगरेप

गिरफ्तार आरोपियों का होगा नार्को टेस्ट

न्यायाधीश आनंद हत्‍याकांड में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए ऑटो चालक लखन वर्मा और राहुल वर्मा के चार तरह के टेस्ट करवाने की इजाजत कोर्ट ने दे दी है. जिसके तहत अब पुलिस गिरफ्तार अभियुक्तों के ब्रेन मैपिंग, नार्को टेस्ट (Narco Test) सहित चार टेस्ट करवाएगी. ये जानकारी धनबाद (Dhanbad) के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) संजीव कुमार ने दी. इसके अलावा जिले के सभी न्यायिक पदाधिकारियों को पुलिस सुरक्षा देगी. इस केस की स्टेटस रिपोर्ट न्यायालय को सौंपी गई है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के द्वारा केस की जांच पड़ताल के लिए सीबीआई से अनुशंसा की गई है. जब तक सीबीआई इस केस को टेकओवर नहीं करती है तब तक एसआईटी का अनुसंधान जारी रहेगा. पुलिस इस मामले की छानबीन काफी कड़ाई से कर रही है.

पोस्टमार्टम में सामने आई ये बात

न्यायाधीश उत्तम हत्या मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर स्पष्ट है कि जज के शरीर पर चोट लगने की वजह से वह बेसुध होकर गिरे थे. ब्रेन में भी गंभीर चोट लगी थी. इसके अलावा जज के पेट में खून चला गया था. इसके साथ पुलिस ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की जांच होगी. अस्पताल द्वारा पुलिस के अलावा धनबाद के डीसी और एसडीएम को भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट दी गई है. मामले में आगे की कार्यवाही जारी है.

सीबीआई जांच की सिफारिश कर चुके हैं सीएम हेमंत सोरेन

न्यायाधीश उत्तम आनंद के हत्या का यह मामला अब काफी हाई-प्रोफाइल हो गया है, क्योंकि जज उत्तम आनंद घटना से पहले हत्याकांड समेत कुछ और प्रमुख आपराधिक मामलों में सुनवाई कर रहे थे. हालांकि, इस केस में जज आनंद के मारे जाने का कारण अब तक पुलिस के सामने नहीं आया है. उत्तम आनंद के परिजनों समेत विधायक व न्यायालय आदि भी इस केस में सीबीआई जांच की जरूरत बता चुके हैं. अब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी सीबीआई जांच की सिफारिश की है. हालांकि अभी सीबीआई ने इस मामले में औपचारिक तौर पर कोई जांच शुरू नहीं की है. लेकिन मामले में जल्द ही सीबीआई के हस्तक्षेप की संभावना जताई जा रही है.



संबंधित लेख

First Published : 04 Aug 2021, 08:29:50 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link