दिल्ली में फिर निर्भया जैसी दरिंदगी, 13 साल की मासूम को रेप के बाद कैंची से गोदा Nirbhaya-like condition in Delhi again, 13-year-old innocent step after rape

69

दिल्ली में एक बार फिर निर्भया (Nirbhaya Case) जैसा मामला सामने आया है. पश्चिम विहार वेस्ट के पीरागढ़ी इलाके में एक 13 साल की मासूम के साथ हैवानियत का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है.

दिल्ली में फिर निर्भया जैसी दरिंदगी, मासूम को रेप के बाद कैंची से गोदा (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

दिल्ली में एक बार फिर निर्भया (Nirbhaya case) जैसा मामला सामने आया है. पश्चिम विहार वेस्ट के पीरागढ़ी इलाके में एक 13 साल की मासूम के साथ हैवानियत का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. घर में बच्ची अकेली थी. इसी दौरान उसके साथ दरिंदगी की गई. जब बच्ची ने इसका विरोध किया तो उसके पूरे शरीर को कैंची से गोद दिया. सूत्रों का कहना है कि बच्ची के साथ निर्भया जैसी वारदात को अंजाम दिया गया. आरोपी बच्ची को खून से लथपथ देख मरा हुआ समझकर फरार हो गया.

यह भी पढ़ेंः जम्मू कश्मीर में एक और सरपंच को आतंकियों ने मारी गोली, 48 घंटे में दूसरा हमला

इशारों से बयां किया दर्द
बच्ची की हालत इतनी खराब थी कि वह न तो चल पा रही थी और ना ही कुछ बोल पा रही थी. बेसुध हालत में किसी तरह वह घिसटते हुए दरवाजे तक पहुंची और पड़ोसी के दरवाजे को खटखटाकर इशारे से खुद की हालत बयां करते हुए फिर से बेहोश हो गई. पड़ोसियों का कहना था कि उसके निजी अंगों से खून बह रहा था. बच्ची की हालत इतनी खराब थी कि वह भी डरे हुए थे. पुलिस ने बच्ची को फौरन संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया.

शरीर में गंभीर घाव के निशान
जानकारी के मुताबिक उसके सिर और हिप्स में किसी धारदार हथियार से कई वार किए गए थे. बच्ची के इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम सरगर्मी से जुटी और सिर व कटे हुए हिस्सों में टांके लगाए, हाथों हाथ एम्स रेफर कर दिया. लड़की ने जो बयान दिया है, उसके आधार पर वारदात में दो लड़के शामिल थे. पुलिस को अंदेशा है कि दोनों संदिग्ध आसपास के ही हैं. पुलिस का कहना है कि 13 साल की बच्ची परिवार के साथ पीरागढ़ी में किराए पर रहती है. परिवार मूल रूप से बिहार का रहनेवाला है. जिस कमरे में परिवार रहता है, वह बिल्डिंग तीन मंजिल की है, जिसमें छोटे-छोटे करीब 25 कमरे बने हुए हैं.

यह भी पढ़ेंः कोविड 19: भारत में पिछले 24 घंटे में 56 हजार से ज्यादा मरीज मिले, 904 मौतें

घर में अकेली थी बच्ची
बच्ची के परिवार में माता-पिता और एक बड़ी बहन है. माता-पिता फैक्ट्री में लेबर हैं. बड़ी बहन भी काम करती है. लगभग रोजाना वह बच्ची अपने कमरे में अकेली रहती है. वाकया मंगलवार शाम का है. पुलिस को तकरीब साढ़े पांच बजे कॉल मिली थी. सूत्रों के मुताबिक, डॉक्टरी जांच में निजी अंगों में चोट भी है. पड़ोसियों ने उसके माता-पिता को हादसे की जानकारी दी. आसपास के सीसीटीवी कैमरों को भी कब्जे में लिया है. आरोपी जल्दी गिरफ्त में होंगे.


First Published : 06 Aug 2020, 10:34:59 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here