दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, सांसद संजय सिंह समेत 500 अज्ञात के खिलाफ FIR, ये है आरोप– News18 Hindi

15

आगरा. ताजनगरी आगरा (Agra) में जहरीली शराब (Hooch Tragedy) पीने से हुई मौत के मामले में कांग्रेस नेता और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने ट्वीट कर मौजूदा बीजेपी सरकार (BJP Government) पर करारा हमला बोला है. शुक्रवार को प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘आगरा में जहरीली शराब से 13 मौतें हो गईं. इस साल उत्‍तर प्रदेश में जहरीली शराब से लगभग 200 मौतें हो चुकी हैं. प्रदेश में शराब माफिया जहरीली शराब का खुलेआम धंधा कर रहे हैं, पत्रकारों और पुलिस पर हमला बोल रहे हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं. शराब माफियाओं पर क्यों मेहरबान है भाजपा सरकार?’

दरअसल, आगरा के थाना डौकी में 4 लोगों की शराब से मौत की बात सामने आई थी. इसके अलावा थाना ताजगंज इलाके में भी 4 की मौत हुई थी और शमशाबाद इलाके में दो मौतें हुई थीं. इस मामले में पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों ने गहराई से जांच की. लिहाजा जांच के बाद यह बड़ी कार्रवाई हुई है.

ये पुलिस कर्मी हुए सस्पेंड
पुलिस के आला अधिकारियों ने थाना डौकी के प्रभारी अशोक कुमार के साथ साथ दो सिपाही सोमवीर और जगजीत सस्पेंड किया हैं. थाना ताजगंज के प्रभारी उमेश त्रिपाठी के साथ चौकी इंचार्ज कुलदीप मलिक और सिपाही अरुण को सस्पेंड किया है. थाना शमसाबाद के थानाध्यक्ष राजकुमार गिरि के साथ सिपाही उदय प्रताप और श्याम सुंदर को सस्पेंड किया है.

आबकारी विभाग के 5 कर्मियों को सस्पेंड करने की संस्तुति
9 पुलिसकर्मियों के सस्पेंड के साथ ही आबकारी विभाग के 5 कर्मियों को सस्पेंड करने की संस्तुति भेजी है. आबकारी इंस्पेक्टर सेक्टर-1 संजय कुमार विद्यार्थी और सेक्टर-7 के आबकारी इंस्पेक्टर रजनीश कुमार पांडेय को सस्पेंड करने की संस्तुति की गई है. इसके अलावा सिपाही विशाल कुमार, राजेश कुमार शर्मा और अमरजीत तेवतिया को भी सस्पेंड करने की संस्तुति भेजी है. गौरतलब है कि शराब पीने से हुई 10 मौत के बाद आगरा ज़ोन के ADG राजीव कृष्ण, आगरा रेंज नवीन अरोरा, कमिश्नर अमित कुमार, जिला अधिकारी प्रभु नारायण सिंह, एसएसपी मुनिराज समेत तमाम आला अधिकारियों ने मौके पर जा कर जांच पड़ताल की थी. मृतकों के परिजनों से अकेले में बात चीत भी की थी.



Source link