ज‍िला पंचायत सदस्‍य बनते ही BSP प्रत्‍याशी का कबूलनामा, 10 पर्सेंट कमीशन पर बेचता हूं काम

20

बसपा के नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य अमरनाथ चौहान ने कबूली कमीशन की बात

Mau News: दूसरी बार जिला पंचायत सदस्य बने अमरनाथ चौहान ने खुलकर मीडिया को बताया कि हम लोग 5 परसेंट या 10 पर्सेंट कमीशन लेकर विकास कार्यों को रजिस्टर्ड ठेकेदारों को बेच देते हैं.

मऊ. उत्तर प्रदेश त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav) में मऊ (Mau) जनपद के बहुजन समाज पार्टी (BSP) के अधिकृत प्रत्याशी अमरनाथ चौहान (Amarnath Chauhan) ने वार्ड संख्या 25 से जीत दर्ज की. मंगलवार को कलेक्ट्रेट में प्रमाण पत्र लेने पहुंचे चौहान ने बताया कि पूरे वर्ष एक जिला पंचायत को 30 से 35 लाख रुपया विकास कामों के लिए आवंटित होता है. हम लोग उसको पांच से दस प्रतिशत कमीशन लेकर रजिस्टर्ड ठेकेदार को आवंटित करवा देते हैं. अमरनाथ चौहान ने दूसरी बार जिला पंचायत का चुनाव जीतने के बाद पिछले कार्य काल का अपना अनुभव मीडिया से साझा करते हुए यह बात कबूली. मीडिया को दिए बयान में उन्होंने बताया कि मऊ जनपद में कुल 34 जिला पंचायत सदस्य हैं. प्रत्येक सदस्यों को लगभग 30 से 40 लाख रुपए विकास कार्यों के लिए आता है. उन्होंने खुलकर मीडिया को बताया कि हम लोग 5 परसेंट या 10 पर्सेंट कमीशन लेकर विकास कार्यों को रजिस्टर्ड ठेकेदारों को बेच देते हैं. एक पत्रकार द्वारा सवाल सवाल पूछे जाने पर कि यह तो आप लोगों का एक अच्छा धंधा है, तो सदस्य ने जवाब दिया कि खर्चा भी बहुत होता है. जब से चुनाव जीता हूं पिछले साल में लगभग 700 लोगों के मरने और जीने में नेवता हकारी करता हूं. इसमें भी काफी खर्चा होता है. बड़े पदों का चुनाव लड़ना भी है नेताजी का सपना वैसे तो नेताजी विकास की भी बात करते हैं और उनका सपना है कि जिला पंचायत से भी आगे बड़े पदों के लिए चुनाव लड़ कर देश की सेवा करें. लेकिन इस खुलासे से कई सवाल खड़े हो रहे हैं. खुलेआम जिला पंचायत सदस्य ने स्वयं कमीशन की बात स्वीकार कर कई सवाल खड़े कर दिए.







Source link