जानें लू से किस तरह करें बचाव, इसकी चपेट में आने पर क्या करें घरेलू इलाज

86
गर्मियां शुरू हो चुकी हैं और वो दिन दूर नहीं हैं जब बढ़ता हुआ तापमान और गर्म हवाएं आपका घर से बाहर निकलना मुश्किल कर देंगी. दोपहर के समय घर से बाहर निकलने पर अगर आपने एहतियात (Precaution) नहीं बरती तो आपको इन गर्म हवाओं के संपर्क में आकर लू (Heat stroke) लगने का खतरा भी बहुत ज्यादा होगा. यहां हम आपको लू से बचाव के बारे में जानकारी देंगे जिससे आप इसकी चपेट (Grip) में आने से बच सकें. तो वहीं ये भी ये भी बताएंगे कि अगर किसी को लू लग जाती है तो इसका घरेलू इलाज किस तरह से किया जा सकता है.

लू से बचने के लिए यहां बताए जा रहे तरीकों को अपनाया जा सकता है-

हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि कभी भी खाली पेट घर से बाहर न निकलें.

पानी ज्यादा पिएं साथ ही घर से बाहर जाते समय पानी की बोतल भी साथ लेकर जाएं.बहुत ज्यादा मसालेदार खाना खाने की बजाय हल्का भोजन करें.

घर से बाहर जाते समय सौंफ या इलायची मुंह में रख लें.

गर्मी से राहत के लिए आम पना, शिकंजी, ठंडाई, नारियल पानी, लस्सी, गन्ने का जूस और बेल शर्बत जैसे ड्रिंक्स लेते रहे.

संतरा, खीरा, मौसमी, अंगूर, तरबूज, खरबूज, खीरा व ककड़ी जैसे फलों का सेवन करते रहें.

ये भी पढ़ें: गर्मी में ठंडक देगा बेल का शर्बत, कब्ज और गैस की समस्‍या होगी दूर

जब भी घर से बाहर जाएं तो सिंथेटिक कपड़ों की जगह, पूरी बांह वाले ऐसे कपड़े पहने जो सूती और हल्के रंग के हों.

अगर संभव हो सके तो धूप में रहने पर छाते का इस्तेमाल करें.

चेहरे को सूती और मुलायम कपड़े से ढक लें और सनग्लासेस का इस्तेमाल करें.

अगर किसी को लू लगती है तो आप यहां बताये जा रहे घरेलू तरीकों से इलाज कर सकते हैं लेकिन ज्यादा दिक्कत हो तो डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करें.

लू लगने की स्थिति में पंखें, कूलर, ए.सी. के सामने ठंडी जगह पर लेटें और शरीर पर ठंडे पानी की पट्टियां भी रखें.

उबले हुए आम और पुदीने का पना बनाकर पिएं और आम के पल्प को पैरों के तलवों पर रगड़ें.

एक प्याज को भूनकर और एक कच्चे प्याज को साथ में पीस लें इसमें जीरा पाउडर और मिश्री मिलाकर सेवन करें.

प्याज का रस पैरों के तलवों में लगाएं.

ये भी पढ़ें: गर्मी में सेहत के लिए फायदेमंद है ककड़ी, वजन भी करेगी कम

 एक या दो बार नींबू पानी का सेवन ज़रूर करें.

जौ के आटे को गूंद लें और इसमें कच्चे प्याज़ को पीसकर मिला लें. इस पेस्ट को शरीर पर लेप की तरह लगाएं.

दो चम्मच सेब के सिरके को एक गिलास पानी में मिलाकर दिन में दो बार पिएं.

बेल का शर्बत भी लू के असर को कम करने के लिए पिया जा सकता है.

गिलोय का जूस दिन भर में दो से तीन चम्मच तक पिया जा सकता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link