घाघरा नदी के तेज बहाव में बह गया गांगेपुर रिंग बांध, सैकड़ों एकड़ फसल जलमग्न | azamgarh – News in Hindi

36

बांध टूटने के बाद जिलाधिकारी ने मौके का जायजा लेकर कई निर्देश दिये

आजमगढ़ के सगड़ी तहसील में घाघरा नदी (Ghaghara River) की तेज धारा में गांगेपुर रिंग बांध (Gangepur Ring Dam) बह गया. इससे कई एकड़ धान की फसल बाढ़ की चपेट में आ गई है.

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के सगड़ी तहसील में घाघरा नदी (Ghaghara River) के तेज बहाव में गांगेपुर रिंग बांध (Gangepur Ring Dam) बह गया. करीब 50 मीटर रिंग बांध नदी में समा गया. इससे सैकड़ों एकड़ धान की फसल बाढ़ (Flood) की चपेट में आ गयी है. दर्जनों पेड़-पौधे भी घाघरा नदी की धारा में बह गये.

बताते चलें कि करीब एक माह पूर्व घाघरा नदी के छोटी सरयू पर बने रिंग बांध टूटने से करीब सैकड़ों गांवों की आबादी बाढ़ के पानी से घिर गयी थी. इसके बाद किसी तरह से एक सप्ताह में इस रिंग बांध को दुरुस्त किया गया. लेकिन मंगलवार को अचानक महुला गढ़वल बंधे के किनारे स्थित गांगेपुर रिंग बांध को घाघरा नदी की तेज धारा ने काट दिया. जब तक अधिकारी श्रमिकों और ग्रामीणों के साथ बांध की बांधने की कवायद में जुटते घाघरा नदी की धारा में करीब 50 मीटर रिंग बांध विलिन हो गया था. जिसके बाद इलाके में हड़कंप मच गया.

बांध को दुरुस्त करने की कवायद जारी

आनन-फानन में सिचाई विभाग की टीम सैकड़ों श्रमिकों और ग्रामीणों के साथ कटे बांध को दुरूस्त करने में जुटी है. जिलाधिकारी मौके पर मौजूद हैं. रिंग बांध के कटने से कई गांवों का सम्पर्क भंग हो गया. सैकड़ एकड़ धान की फसल बाढ़ की चपेट में आ गयी है. दर्जनों पेड़-पौधे घाघरा नदी की धारा में बह गये हैं.निर्देशों की हुई अनदेखी 

बताया जा रहा है कि पिछले एक सप्ताह से घाघरा नदी की मुख्यधारा रिंग बांध के पास कटान कर रही थी. इस पर उपजिलाधिकारी व अपर जिलाधिकारी ने निरीक्षण कर बचाव के निर्देश दिए थे. किंतु कोई कदम नहीं उठाने की वजह से बांध नदी में बह गया.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here