गोरखपुर: छेड़खानी से आहत छात्रा ने खुद को लगाई आग, अस्पताल में तोड़ा दम | gorakhpur – News in Hindi

73

गोरखपुर में एक नाबालिग छात्रा की मौत के बाद परिजनों ने आरोप लगाया है कि छेड़खानी से तंग आकर छात्रा ने खुद को आग लगाई.

गोरखपुर (Gorakhpur) में नाबालिग छात्रा की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है. छात्रा के परिजनों ने आरोप लगाया है कि पड़ोस के लड़के की छेड़खानी से तंग आकर छात्रा ने खुद को आग लगाई.

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में संदिग्ध परिस्थितियों में नाबालिग छात्रा (Minor Student) की मौत (Death) हो गई है. छात्रा की मौत के बाद परिजनों ने पड़ोस के युवक पर छेड़खानी (Molestation) का आरोप लगाते हुए कहा है कि छेड़खानी से तंग आकर उनकी बेटी ने अपनी जान (Suicide) दी है. परिजनों का कहना है कि पड़ोस के युवक द्वारा छेड़खानी से आहत उनकी बेटी ने मिट्टी का तेल डालकर खुद का जला लिया था, इलाज के दौरान मेडिकल कॉलेज में मौत हुई है. मामले में पुलिस ने आरोपी युवक के पिता और मां को गिरफ्तार किया है. साथ ही फरार आरोपी की तलाश में पुलिस टीम को लगाया गया है.

मृतक छात्रा के परिजनों ने कहना है कि उन्हें पहले छेड़खानी की बात का पता नहीं चल पाया था. इस वजह से उसकी शिकायत पहले उन्होंने पुलिस से नहीं की थी. मामला पिपराइच थाना के रतनपुर गांव का है. जहां शैलेश तिवारी की बेटी 10 अगस्त की शाम 5 बजे के करीब संदिग्ध परिस्थितियों में जल गई थी. छात्रा के परिजनों ने रात 2 बजे के आसपास इसकी सूचना पुलिस की दी थी. सूचना पर पिपराइच पुलिस फौरन मेडिकल कॉलेज पहुंची.

दर्ज नहीं हो सका पीड़ि‍ता का बयान
ज्यादा जल जाने के कारण छात्रा का बयान नहीं दर्ज हो पाया. इस दौरान छात्रा के पिता शैलेश तिवारी ने आरोप लगाया कि पड़ोस का लड़का हरीश गौड़ आए दिन उनकी बेटी से छेड़छाड़ करता था. इस बात की शिकायत उन्होंने अपने पड़ोसी और युवक के पिता चंद्रिका गौड़ से कई बार की थी. लेकिन उन लोगों ने इस बात पर ध्यान नहीं दिया. लगातार छेड़खानी से तंग आकर उनकी बेटी ने आत्‍मदाह कर लिया. उन्‍होंने बताया कि आनन-फानन में उसे मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.परिजन आक्रोशित

मृतक छात्रा की दादी विंध्‍यवासिनी देवी ने बताया है कि अक्सर पड़ोस का युवक उनकी पोती से छेड़खानी किया करता था. लेकिन, इस बात की जानकारी उन लोगों को नहीं थी. बीते 10 अगस्त को पड़ोसी युवक हरीश की छेड़खानी से तंग आकर उनकी नातिन ने खुद को आग लगाकर जला लिया, बाद में उसकी मौत हो गयी थी. दादी का कहना है कि जिस तरह से उसकी बच्ची मरी है, उसी तरह आरोपी को भी जलाकर मार दिया जाये.

आरोपी की तलाश जारी: सीओ चौरीचौरा
मामले में सीओ चौरीचौरा रचना मिश्रा ने बताया कि छेड़खानी की घटना से आहत छात्रा ने खुद ही आग लगा लिया था. जिसकी वजह से उसकी मौत हुई है. पुलिस ने मृतक छात्रा के पिता की लिखित तहरीर पर धारा 326, 354क, 504 आईपीसी व 7/8 पाक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज करने के साथ ही आरोपी के पिता चंद्रिका गौड़ और उसकी मां को गिरफ्तार किया है. फरार आरोपी हरीश की तलाश की जा रही है. सीओ चौरीचौरा ने बताया कि इस घटना में सबसे दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि छात्रा के परिजनों ने कभी भी छेड़खानी की घटना की शिकायत पुलिस से नहीं की थी.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here