गृहमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन: फडणवीस ने गृहमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया – fadnavis puts breach of privileg motion against home minister anil desmukh

33

मुंबई
विधान में विपक्ष के नेता व राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया है। फडणवीस ने इन पर सदन को गुमराह करने तथा सदन में झूठ बोलने का आरोप लगाया है।

बुधवार को विधानसभा में फडणवीस ने राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर झूठे इल्जाम लगाने का आरोप लगाते उनके खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया। उन्होंने कहा कि देशमुख ने मंगलवार को सदन में उनपर 2018 में अन्वय नाईक आत्महत्या मामले में जांच पर पर्दा डालने का आरोप लगाया। अलीबाग के रहने वाले इंटीरियर डिजाइनर नाईक ने साल 2018 में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी। इस मामले के संबंध में पत्रकार अरनब गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया था।

फडणवीस ने विधानसभा में आगे कहा कि उच्चतम न्यायालय ने अपने फैसले में स्पष्ट रूप से कहा है कि राज्य सरकार ने आत्महत्या के लिए उकसाने से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धारा 306 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है, जो प्रथम दृष्ट्या गलत है। उन्होंने कहा, देशमुख ने जो कहा है, वह अदालत की अवमानना है। साथ ही इसका मकसद विधायक के तौर पर मुझे मेरे कर्तव्यों का पालन करने से रोकने के समान है। विधानसभा के उपाध्यक्ष नरहरि झिरवाल ने कहा कि वह नोटिस पर विचार के बाद उचित फैसला लेंगे।

विधानसभा के बाहर विधानभवन परिसर में पत्रकारों से बात करते हुए फडणवीस ने गृहमंत्री अनिल देशमुख और राज्य के लोकनिर्माण मंत्री अशोक चव्हाण पर विशेषाधिकार हनन का नोटिस देने की बात कही। उन्होंने कहा कि अशोक चव्हाण ने मराठा आरक्षण के मसले को लेकर सदन को गुमराह किया है।

Source link