कोरोना वायरस से डरने की जरूरत नहीं, कोरोना कवच पॉलिसी है ना | No Need To Fear Coronavirus, You Have A Corona Kavach Health Insurance Policy

44

Corona Kavach Health Insurance Policy: भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने साधारण एवं स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को कोविड-19 इलाज के लिये अल्पावधि कोरोना कवच स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी लॉन्च करने की अनुमति दी थी.

कोरोना कवच (Corona Kavach Health Insurance Policy) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Coronavirus (Covid-19): अगर आप कोरोना वायरस को लेकर चिंतित हैं और चाहते हैं कि संक्रमित होने की स्थिति में बगैर किसी चिंता के आपका इलाज हो जाए और पैसे की टेंशन नहीं हो तो कोरोना कवच पॉलिसी आपके लिए ही है. दरअसल, कोरोना कवच (Corona Kavach Health Insurance Policy) नाम से 10 जुलाई को बीमा उत्पाद पेश किश गया था. भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने साधारण एवं स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को कोविड-19 इलाज के लिये अल्पावधि कोरोना कवच स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी लॉन्च करने की अनुमति दी थी. गौरतलब है कि 31 से 55 साल के व्यक्ति के लिये 2.5 लाख रुपये की कोरोना कवच पॉलिसी का प्रीमियम 2,200 रुपये है. इसी उम्र के दो वयस्कों और दो बच्चों के लिये प्रीमियम 4,700 रुपये है.

यह भी पढ़ें: सेबी प्रमुख ने मल्टी-कैप म्यूचुअल फंड योजनाओं के लिए कही ये बड़ी बात

कोरोना कवच पॉलिसी की पेशकश साधारण और स्वास्थ्य बीमा कंपनियां दोनों कर रही हैं. यह एक मानक स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी है, जिसे कोरोना वायरस संक्रमण के लिये जरूरी इलाज को लेकर तैयार किया गया है. पॉलिसी की मियाद साढ़े तीन महीने से लेकर साढ़े नौ महीने तक के लिये है. इसमें 5 लाख रुपये तक का बीमा लिया जा सकता है. इरडा के दिशानिर्देश के अनुसार अल्पावधि के लिये पॉलिसी साढ़े तीन महीने, साढे छह महीने और साढे नौ महीने के लिये हो सकती है. इसमें बीमा राशि 50,000 रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक (50,000 रुपये के गुणक में) है.

यह भी पढ़ें: इंश्योरेंस कंपनियों के लिए बड़ी खबर, इरडा ने दी ये बड़ी सुविधा

देशभर में एक समान प्रीमियम
नियामक के अनुसार प्रीमियम भुगतान एक बार करना होगा और पूरे देश में प्रीमियम राशि समान होगी. कोरोना कवच बीमा पॉलिसी पेश करते हुए बजाज आलियांज जनरल इंश्योंरेंस ने कहा कि इसमें मूल कवर का प्रीमियम 447 से 5,630 रुपये (जीएसटी शामिल नहीं) रहेगा. यह राशि व्यक्ति की उम्र, बीमित राशि और पॉलिसी की अवधि के हिसाब से अलग-अलग होगी. पॉलिसीबाजार.कॉम के प्रमुख स्वास्थ्य बीमा अमित छाबड़ा ने कहा कि ज्यादातर प्रमुख स्वास्थ्य बीमा कंपनियों ने नियामक के निर्देशानुसार कोविड-19 से संबंधित पॉलिसी शुरू कर दी है। कोरोना कवच पॉलिसी की शुरूआत करते हुए एचडीएफसी एर्गो ने कहा कि नई स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के तहत सरकारी मान्यता प्राप्त जांच घर में जांच के बाद कोरोना संक्रमण का मामला पाया जाता है तो उसके इलाज में अस्पताल में भर्ती होने का चिकित्सा खर्च का वहन किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: कोरोना कवच हेल्थ पॉलिसी का मिलता रहेगा फायदा, IRDA उठा सकता है ये बड़ा कदम

अन्य बीमारियां भी दायरे में आएंगी
कंपनी के अनुसार मरीज को अगर कोविड-19 के साथ अन्य बीमारी है तो वायरस संक्रमण के साथ उस पर होने वाले इलाज का खर्च भी इसके दायरे में आएगा. इसमें वायरस के कारण अस्पताल में भर्ती होने पर रोड एम्बुलेंस का खर्च भी दायरे में आएगा. एचडीएफसी एर्गो के अनुसार पॉलिसी में घरों में 14 दिन के देखभाल का खर्च भी शामिल है. यह उन लोगों के लिये होगा जो अपने घर में ही इलाज को तरजीह देते हैं, इसके अलावा आयुर्वेद, होम्योपैथ समेत दूसरे इलाज के विकल्प में पॉलिसी के दायरे में आएंगे. मैक्स बूपा के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी कृष्णन रामचंद्रन ने कहा कि हमारा कोरोना पालिसी का प्रीमियम प्रतिस्पर्धी है.

संबंधित लेख



First Published : 22 Sep 2020, 04:52:31 PM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here