कोरोना काल में UP बोर्ड ने शुरू की करियर काउंसलिंग सेल, छात्रों को मिलेगी एजुकेशनल हेल्प | allahabad – News in Hindi

51

यूपी बोर्ड (UP Board) द्वारा शुरू की गई दोनों हेल्पलाइन नंबरों (Helpline Numbers) पर स्टूडेंट्स फोन कर विशेषज्ञों से बातचीत कर सलाह ले सकते हैं. साथ ही वो अपनी समस्याओं और शंकाओं का भी समाधान करा सकते हैं. इन टोल फ्री फोन नंबरों पर छात्र-छात्राओं की करियर काउंसलिंग भी की जाएगी

यूपी बोर्ड (UP Board) द्वारा शुरू की गई दोनों हेल्पलाइन नंबरों (Helpline Numbers) पर स्टूडेंट्स फोन कर विशेषज्ञों से बातचीत कर सलाह ले सकते हैं. साथ ही वो अपनी समस्याओं और शंकाओं का भी समाधान करा सकते हैं. इन टोल फ्री फोन नंबरों पर छात्र-छात्राओं की करियर काउंसलिंग भी की जाएगी


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 2, 2020, 8:12 PM IST

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश बोर्ड (UP Board) में गठित की गई करियर काउंसिलिंग सेल (Career Counselling Cell) की बुधवार से विधिवत शुरुआत हो गई. पहले दिन करियर काउंसिलिंग सेल के टोल फ्री नंबरों पर प्रदेश के चालीस जिलों के 61 स्टूडेंट्स के फोन काल आए. पहली पाली में 50 स्टूडेंट्स के फोन कॉल आए, जबकि दूसरे पाली में 11 छात्रों ने फोन कर विशेषज्ञों के सामने अपनी समस्याएं रखीं. यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ल के मुताबिक कोरोना काल में छात्र अपने करियर को लेकर काफी जागरुक हैं. उनके मुताबिक ज्यादातर बच्चों ने करियर को लेकर विशेषज्ञों से सवाल पूछे. वहीं कुछ ने सिविल सर्विसेज़ की तैयारी के लिए यूपीपीएससी (UPPSC) में किस विषय को रखकर पढ़ाई करें तो सफलता मिलेगी, इससे जुड़े सवाल पूछे.

यूपी बोर्ड के सचिव के मुताबिक पूरे कोरोना काल में करियर काउंसेलिंग सेल चलाई जाएगी, ताकि स्टूडेंट्स की समस्याओं का विषय विशेषज्ञ और मनोविज्ञान के विशेषज्ञ समाधान कर उनका उचित मार्गदर्शन कर सकें. बता दें कि यूपी बोर्ड ने कोरोना काल में प्रदेश भर के 28 हजार से ज्यादा स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे अपने छात्रों को मदद मुहैया कराने के लिए करियर काउंसिलिंग सेल की शुरुआत की है. इसमें नौवीं से बारहवीं क्लास के छात्रों को विशेषज्ञ ऑनलाइन पढ़ाई और सिलेबस समेत किसी भी व्यवहारिक दिक्कतों के समाधान के लिए सलाह देंगे. इसके लिए यूपी बोर्ड ने दो टोल फ्री नंबर 18001805310 और 18001805312 जारी किए हैं. यह टोल फ्री नंबर हफ्ते में पांच दिन सोमवार से शुक्रवार तक काम करेंगे.

छात्रों के लिए हफ्ते में पांच दिन काम करने वाले दो टोल फ्री नंबर

इन हेल्पलाइन नंबरों पर स्टूडेंट्स फोन कर विशेषज्ञों से बातचीत कर सलाह ले सकते हैं. साथ ही वो अपनी समस्याओं और शंकाओं का भी समाधान करा सकते हैं. इन टोल फ्री फोन नंबरों पर छात्र-छात्राओं की करियर काउंसलिंग भी की जाएगी.यह दोनों टोल फ्री नंबर सुबह 11 बजे से दोपहर एक बजे तक और दोपहर दो से शाम चार बजे तक रोजाना चार घंटे काम करेंगे. यूपी बोर्ड में नौवीं से बारहवीं क्लास तक के करीब सवा करोड़ विद्यार्थी हैं. करियर काउंसलिंग के लिए यूपी बोर्ड मुख्यालय में समाधान मीटिंग हॉल बनाया गया है. जिसमें 12 शोध सहायक और साहित्यिक सहायक महिला कर्मचारियों की ड्यूटी रोटेशन बेसिस पर लगाई गई है. इसी तरह का प्रयोग यूपी बोर्ड ने वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षा में भी किया था. बोर्ड परीक्षा में यूपी बोर्ड ने कंट्रोल रूम बनाकर टोल फ्री नंबर जारी किए थे और छात्र छात्राओं की परीक्षा से संबंधित समस्याओं का निदान किया गया था.

कोविड-19 के चलते वर्तमान में स्कूलों में ई-ज्ञान गंगा के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई हो रही है. इसमें तमाम बच्चे शिक्षकों से अपने प्रश्न नहीं कर पाते हैं. इसके लिए जहां विद्यालय स्तर पर ड्रॉप बॉक्स लगाए गए हैं और व्हाट्सएप नंबरों के जरिए छात्रों की समस्याओं का समाधान स्कूल स्तर पर किया जा रहा है. वहीं यूपी बोर्ड भी अब अपने स्तर पर छात्र-छात्राओं की समस्याओं के निदान के लिए करियर काउंसलिंग कर रहा है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here