कांग्रेस का विधानसभा अध्यक्ष: शरद पवार बोले- विधानसभा अध्यक्ष कांग्रेस का ही होगा – maharashtra assembly speaker will from congress party only said ncp chief sharad pawar

19

मुंबई
विधानसभा का नया अध्यक्ष कांग्रेस का ही होगा, एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने रविवार को यह बात साफ कर दी। विधानसभा अध्यक्ष पद से कांग्रेस के नाना पटोले के इस्तीफे के बाद से यह पद रिक्त है। हाल में हुए विधानसभा के मॉनसून अधिवेशन में अध्यक्ष पद का चुनाव कराए जाने की चर्चा थी, परंतु विधानसभा का सत्र सिर्फ दो ही दिन का था, इसलिए चुनाव नहीं हो पाया।

पवार ने रविवार को संवाददाताओं से कहा कि तीनों पार्टियों (शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस) ने फैसला किया है कि नया विधानसभा अध्यक्ष कांग्रेस से ही होगा। कांग्रेस प्रत्याशी को लेकर जो भी फैसला करेगी, हम उसका समर्थन करेंगे। मॉनसून सत्र के दौरान सदन में कथित तौर पर दुर्व्यवहार करने पर बीजेपी के 12 विधायकों को निलंबित करने के सवाल पर पवार ने कहा कि जो उन्होंने विधानसभा में किया, उसके आधार पर कार्रवाई की गई। इसमें तूल देने वाला कुछ भी नहीं है… यह हो चुका है।

गौरतलब है कि 5 जुलाई को विधानसभा स्पीकर के चेंबर में पीठासीन अधिकारी से कथित तौर पर दुर्व्यवहार करने के मामले में 12 विधायकों को एक साल के लिए निलंबित किया गया है।

नाना को बंगले से बेदखल होने का अंदेशा
नाना पटोले जब विधानसभा के अध्यक्ष थे, तो अध्यक्ष के नाते उन्हें सरकारी बंगला आवंटित किया गया था। अब वह न तो विधानसभा अध्यक्ष हैं और ना ही मंत्री। अब वह सिर्फ एक विधायक हैं और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष हैं, इसलिए उन्हें बंगला खाली करना पड़ सकता है। अदालती आदेश के मुताबिक, पद से हटने के 6 महीने के भीतर किसी भी जनप्रतिनिधि को बंगला खाली करना अनिवार्य है अन्यथा उसे बाजार भाव से बंगले का किराया अदा करना पड़ेगा।

यही वजह है कि पटोले विधानसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद लगातार किसी न किसी तरह मंत्री पद पाने के प्रयास में लगे हैं। लेकिन, उनका यह प्रयास अब तक सफल नहीं हो पाया है। ऐसे में अगर नए विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव हो जाता है और नाना को मंत्री पद नहीं मिल पाता है, तो उनको आवंटित सरकारी बंगला ‘ए-9’ छोड़ना पड़ेगा और मुंबई में अपने लिए नया आशियाना तलाशना पड़ेगा।

Source link