कपिल देव की टीम इंडिया को सलाह, फाइनल जीतने के लिए रखना होगा संयम

83

<p style="text-align: justify;">इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच अगले महीने इंग्लैंड में आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच खेला जाना है. &nbsp;भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने फाइनल मुकाबले के लिए टीम इंडिया को बेहद ही खास सलाह दी है. कपिल देव का कहना है कि टीम इंडिया को न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में संयम रखना होगा और ज्यादा आक्रामक होने से बचना होगा.</p>
<p style="text-align: justify;">1983 विश्व कप विजेता टीम के कप्तान ने कहा कि इंग्लैंड में मौसम मिनटों में बदलता है . ऐसे में भारत को सत्र को देखते हुए खेलना होगा. कपिल ने कहा, "भारत के पास अच्छा बल्लेबाजी क्रम है लेकिन वे वातावरण से किस तरह पार पाते हैं यह जरूरी है. मेरे अनुसार, भारत की बल्लेबाजी उसकी मजबूती है. हाल के दिनों में टीम का गेंदबाजी आक्रमण भी अच्छा रहा है लेकिन टीम के बल्लेबाज फाइनल में अहम भूमिका में हो सकते हैं."</p>
<p style="text-align: justify;">कपिल देव का कहना है कि इंग्लैंड के मौसम में अचानक होने वाले बदलाव के लिए आपको तैयार रहना पड़ता है. उन्होंने कहा, "टेस्ट क्रिकेट सत्रों का खेल है. हर सत्र मौसम के कारण बदलता है. मिनटों में यहां मौसम बदल जाता है और बादल छा जाते हैं, इसलिए जब आप इंग्लैंड में खेलते हैं तो आपको इसके लिए तैयार रहना पड़ता है."</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>इंग्लैंड में सफल रह चुके हैं कपिल देव</strong></p>
<p style="text-align: justify;">62 वर्षीय पूर्व कप्तान ने टीम के कप्तान विराट कोहली को इंग्लैंड में ज्यादा आक्रामक होने से बचने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने अपने खेल में सुधार किया है लेकिन उन्हें इंग्लैंड में ध्यान रखने की जरूरत है.</p>
<p style="text-align: justify;">कपिल ने कप्तान के रूप में इंग्लैंड का सफल दौरा किया था. उन्होंने 1986 में 2-0 की जीत दर्ज की थी जहां भारत ने लॉर्डस और लीड्स टेस्ट में जीत हासिल की थी. कपिल ने कहा कि डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए लॉर्ड्स को चुना जाना चाहिए था.</p>
<p class="article-title _heading_top_ipl" style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/sports/cricket/bhuvneshwar-kumar-said-that-he-don-t-know-the-speed-up-benefit-in-early-stage-of-career-1919816"><strong>भुवनेश्वर कुमार ने बताया कि कैसे उन्होंने बल्लेबाजों को परेशान करने का तरीका तलाशा</strong></a></p>

Source link