कई दिक्कतों को दूर करने में अहम रोल निभाती है जावित्री, जानिए इसके फायदे

20

Health Benefits Of Javitri or Mace: बाकी मसालों (Spices) की तरह ही खड़े मसालों में जावित्री (Mace) भी शामिल है. इसके बारे में आप जानते होंगे और इसका इस्तेमाल भी आप शायद खाने का स्वाद (Taste) और खुश्बू बढ़ाने के लिए करते होंगे लेकिन बता दें कि जावित्री (Mace) इसके अलावा सेहत को बेहतर बनाने में भी ये काफी मददगार है. जावित्री इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के साथ-साथ सेहत संबंधी कई दिक्कतों को दूर करने में अहम रोल निभाती है. जावित्री को किन दिक्कतों को दूर करने के लिए और किस तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है, इस बारे में जानते हैं.

इम्यूनिटी मजबूत करती है

केवल कोरोना (COVID19) ही नहीं बल्कि किसी भी वायरस और बीमारी से बचने के लिए इम्यूनिटी का मजबूत होना बेहद जरूरी है. इसके लिए आप जावित्री का इस्तेमाल कर सकते हैं. ये इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाने का काम करती है, जिससे बार-बार बीमार होने का खतरा कम होता है.

ये भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं उन 9 मसालों के बारे में जो सूजन को कम करते हैं..

सर्दी-जुकाम से निजात देती है

सर्दी- जुकाम से निजात देने में भी जावित्री काफी मदद करती है. ये एंटी-एलर्जिक, एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है. इतना ही नहीं शरीर में गर्माहट लाने में भी जावित्री खास रोल अदा करती है.

लिवर संबंधी दिक्कतें कम करती है

ज्यादा तला और मसालेदार खाना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है, साथ ही लीवर को भी नुकसान पहुंचता है. ऐसे में अगर आप जावित्री का सेवन करते हैं तो इससे आपका लिवर डिटॉक्स होता है. जिससे लिवर संबंधी दिक्कतें कम होती हैं.

किडनी संबंधी परेशानी कम करती है 

जावित्री का सेवन करने से किडनी से जुड़ी दिक्कतें होने का खतरा कम होता है. ये किसी भी तरह के इंफेक्शन से किडनी को बचाने में मदद करती है. साथ ही ये शरीर में मौजूद विषैले तत्वों को खत्म करने और रक्त संचार को बेहतर बनाने का काम भी करती है.

ये भी पढ़ें: अगर नहीं खाते हैं परवल, तो इसके फायदे जानकर आज ही कर लें डाइट में शामिल

ऐसे कर सकते हैं जावित्री का इस्तेमाल

पुलाव, बिरयानी जैसी डिश में इसका इस्तेमाल खड़े मसाले के तौर पर किया जा सकता है. साथ ही किसी भी सब्जी में इसका इस्तेमाल पिसे मसाले की तरह से किया जा सकता है. इसके साथ ही जावित्री को मिठाई, पुडिंग, मफिन, केक और ब्रेड बनाने में भी इस्तेमाल कर सकते हैं. मसाला चाय या मसाला दूध बनाने के लिए भी जावित्री का इस्तेमाल आप कर सकते हैं. 

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link