ओएनजीसी ने अलका मित्तल को सीएमडी नियुक्त किया

24

नई दिल्ली:
ऊर्जा क्षेत्र की प्रमुख कंपनी ओएनजीसी ने अलका मित्तल को अपनी अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक नियुक्त किया है।

सार्वजानिक क्षेत्र की तेल और प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) की ओर से अलका मित्तल को यह जिम्मेदारी देने के साथ ही वह देश की सबसे बड़ी तेल और गैस उत्पादक कंपनी का नेतृत्व करने वाली पहली महिला बन गईं हैं।

नई जिम्मेदारी मित्तल को अतिरिक्त प्रभार के रूप में दी गई है, जो कंपनी में निदेशक (मानव संसाधन) का पद संभालेंगी।

ओएनजीसी ने सोमवार देर रात अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट करते हुए कहा कि इस पदोन्नति के साथ, मित्तल कंपनी का नेतृत्व करने वाली पहली महिला बन गईं हैं।

31 दिसंबर, 2021 को पूर्व प्रमुख सुभाष कुमार की सेवानिवृत्ति के बाद से सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी बिना प्रमुख के काम कर रही थी।

मित्तल अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर, एमबीए (एचआरएम) और वाणिज्य और व्यवसाय अध्ययन में डॉक्टरेट हैं। वह 1985 में ओएनजीसी में शामिल हुईं थीं। निदेशक (एचआर) के रूप में शामिल होने से पहले, उन्होंने कंपनी के मुख्य कौशल विकास (सीएसडी) का पद भी संभाला।

ओएनजीसी वेबसाइट पर मित्तल की प्रोफाइल में कहा गया है कि सीएसडी के रूप में उन्होंने गतिविधियों को सुव्यवस्थित किया और ओएनजीसी के कौशल विकास केंद्रों के कामकाज में एकरूपता लाई। इस अवधि के दौरान, उन्होंने ओएनजीसी में सभी कार्य केंद्रों में 5,000 से अधिक प्रशिक्षुओं को शामिल करते हुए राष्ट्रीय शिक्षुता संवर्धन योजना (एनएपीएस) भी लागू की है।

एक वरिष्ठ मानव संसाधन विशेषज्ञ के रूप में, मित्तल ने विभिन्न पेशेवर मंचों और निकायों में समृद्ध योगदान दिया है।

वह एनआईपीएम (राष्ट्रीय कार्मिक प्रबंधन संस्थान) की कार्यकारी समिति की सदस्य हैं और हाल तक सार्वजनिक क्षेत्र (डब्ल्यूआईपी) उत्तरी क्षेत्र में महिलाओं के लिए फोरम की अध्यक्ष थीं और ओएनजीसी के महिला विकास मंच की प्रमुख थीं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source link