एटा: सरकारी आवास मांगने पर ग्राम पंचायत सेक्रेटरी और उसके गुर्गों से मिली पिटाई | etah – News in Hindi

47

सरकारी स्कीम के तहत आवास की गुहार लगाने वाले शख्स की पिटाई.

एटा (Etah) जनपद के जैथरा ब्लॉक परिसर में प्रार्थी अशोक यादव आवास आवंटन को लेकर प्रार्थना पत्र देने गया था. ग्राम पंचायत सेक्रेटरी मनोज यादव ने उसे आवास आवंटन में अपात्र घोषित कर दिया था, इस बात का विरोध अशोक ने किया तो उसकी पिटाई कर दी गई.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 16, 2020, 6:23 PM IST

एटा. उत्तर प्रदेश जनपद एटा (Etah) में ग्राम पंचायत सेक्रेटरी और उसके गुर्गे की गुंडई का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में ग्राम पंचायत सेक्रेटरी का गुर्गा हाथ में डंडा लेकर लाभार्थी को जमकर पीटते हुए कैमरे में कैद हुआ है. बताया जा रहा है एटा जनपद के जैथरा ब्लॉक परिसर में प्रार्थी अशोक यादव आवास आवंटन को लेकर प्रार्थना पत्र देने गया था. इससे पहले लाभार्थी को सेक्रेटरी मनोज यादव द्वारा आवास आवंटन में अपात्र घोषित कर दिया गया था, जबकि वह आवास के लिए सभी मानकों को पूरा करते हुए पात्र था.

ब्लॉक परिसर में दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

इसी बात को लेकर सेक्रेटरी व उसके गुर्गे और लाभार्थी के बीच बहस हो गई, इस दौरान ग्राम पंचायत सेक्रेटरी मनोज यादव के गुर्गे ने हाथ में डंडा लेकर ब्लॉक परिसर में ही अशोक यादव पर हमला बोल दिया. परिसर में अफरातफरी का माहौल हा गया. इस दौरान एडीओ, बीडीओ अधिकारी और कर्मचारियों सहित तमाम लोग तमाशबीन बने देख रहे हैं, लेकिन किसी ने लाभार्थी को बचाने का प्रयास नहीं किया.

कोई कार्रवाई नहींभ्रष्ट सेक्रेटरी का गुर्गा डंडे से बेरहमी के साथ लाभार्थी की जमकर पिटाई करता रहा, दौड़ा-दौड़ा कर लाभार्थी को पीटा गया, लेकिन इस मामले में आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई.

जेल भेजी जा चुका है सेक्रेटरी

आपको बता दें, वर्ष 2017 में एक करोड़ के शौचालय घोटाले को लेकर सेक्रेटरी मनोज यादव जेल जा चुका है. जेल से रिहा होने के बाद जब इस मामले को लेकर बहस हुई और लाभार्थी को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया, ब्लॉक परिसर में खड़े किसी व्यक्ति ने लाभार्थी की पिटाई का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. उधर इस मामले के संज्ञान में आने के बावजूद भी जिला प्रशासन कोई उचित कार्यवाही करने के लिए तैयार है. मामले में ज़िला प्रशासनिक अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. पूरी घटना में जिलाधिकारी सुखलाल भारती कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here