उड़ीसा से बेटी को किया फोन, कहा- पुलिस वाले मझे मार देंगे और फिर… | pilibhit – News in Hindi

38

ट्रक ड्राइवर की उड़ीसा में संदिग्ध मौत (File photo)

जहानाबाद थाना इंचार्ज (SHO) हरीश वर्धन सिंह का कहना है कि सिया पट्टी गांव के ट्रक चालक (Truck Driver) भगवान दास की मौत की सूचना मिली है.

पीलीभीत. यूपी के पीलीभीत (Pilibhit) के एक गरीब परिवार पर उस समय आफत टूट पड़ी जब उस परिवार की बेटी के पास उसके पिता का फोन आता है और वह कहता है कि मुझको पुलिस वालों ने पकड़ लिया है और यह मुझे मार देंगे. इस बीच उन्हें दूसरे दिन मालूम होता है कि उनके पिता का एक्सीडेंट हो गया. इस बातचीत का आडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है.

उत्तराखंड से ट्रक लेकर थोड़ी सारे ट्रक चालक को उड़ीसा पुलिस ने बदमाश समझकर मौत के घाट उतार दिया. मुठभेड़ से पूर्व ट्रक चालक ने अपनी बेटी को फोन कर पुलिस द्वारा मारने की आशंका की पूरी जानकारी दी थी. जिसका ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. मौत के बाद का घटना की जानकारी दी गई. मामले की जानकारी पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी गई है.

ये भी पढे़ं- प्रियंका बोलीं- कृषि कानून के खिलाफ पूरे देश में किसान एकजुट होकर कर रहे हैं विरोध

जहानाबाद थाना क्षेत्र के गांव सिया वाड़ी पट्टी निवासी गीता देवी ने बताया कि उसका पति 11 सितंबर की शाम 7 बजे उत्तराखंड के सितारगंज सिसैया ट्रक लेकर उड़ीसा राउरकेला गए थे .उसके बाद 16 सितंबर को भगवान दास ने स्वयं अपनी पत्नी गीता देवी व पुत्री कविता को फोन करके आशंका जताई कि रामदेवरा पुलिस ने उसे बदमाश समझकर पकड़ लिया है और वह उसे मुठभेड़ में मारना चाहते हैं. उसने राउरकेला पुलिस से कहा कि वह फोन कर जहानाबाद थाने से जानकारी ले सकते है, लेकिन पुलिस ने एक नहीं सुनी और उसे मार दिया गया.परिवार वालों को दी मरने की सलाह
भगवान दास की पुत्री ने अपने पिता से पूछा कि अब वह लोग क्या करें तो भगवान दास का जवाब था कि सब लोग जहर खा कर मर जाना गरीब आदमी का और क्या होता है.

क्या बोली पुलिस
जहानाबाद थाना इंचार्ज हरीश वर्धन सिंह का कहना है कि सिया पट्टी गांव के ट्रक चालक भगवान दास की मौत की सूचना मिली है. राहुल केला पुलिस से संपर्क किया गया पुलिस का कहना है कि दुर्घटना में भगवान दास की मौत हुई है. मैंने एफआईआर की कॉपी और पोस्टमार्टम रिपोर्ट भेजने के लिए उनको पत्र लिखा है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here