आगरा पहुंचते ही होगी कोरोना जांच, 7 दिनों तक रहना होगा क्वारंटीन

135

आगरा पहुंचते ही होगी कोरोना जांच, 7 दिनों तक रहना होगा क्वारंटीन.

होली पर कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और न बढ़े इसको लेकर जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र समेत उन जिलों से आने वाले लोगों के लिए कोरोना जांच को आवश्यक कर दिया है जो संक्रमण प्रभावित जिलों से आ रहे हैं. जो लोग अब आगरा में प्रवेश करेंगे उन्हें पहले  कोरोना जांच से गुजरना होगा साथ ही सात दिन क्वारंटीन में रहना अनिवार्य होगा.

आगरा. उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh) के आगरा ( Agra) में कोरोना संक्रमण को लेकर आगरा प्रशासन ( Agra administration) एक बार फिर से सतर्क हो गया है. यहां होली पर कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और न बढ़े इसको लेकर जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र समेत उन जिलों से आने वाले लोगों के लिए कोरोना जांच को आवश्यक कर दिया है जो संक्रमण प्रभावित जिलों से आ रहे हैं. जो लोग अब आगरा में प्रवेश करेंगे उन्हें पहले  कोरोना जांच से गुजरना होगा साथ ही सात दिन क्वारंटीन में रहना अनिवार्य होगा. कोविड मामलों की समीक्षा के बाद जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह के इस निर्णय से आगरा पहुंचकर होली मनाने वाले लोगों के प्लान पर पानी फिर सकता है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना की दस्तक आगरा से ही शुरू हुई थी. यहां कई मामले सामने आए थे. इसी को दृष्टिगत रखते हुए अब आगरा प्रशासन कोरोना को लेकर कोई भी चूक नहीं करना चाहता है. इसी को लेकर जिला प्रशासन ने दूसरे संक्रमण वाले राज्यों से आगरा आने वाले लोगों के लिए कोरोना जांच को अनिवार्य बना दिया है. डीएम ने दोबारा से लॉकडाउन लगने की बात से तो इनकार किया, लेकिन उन्होंने बताया कि बड़ी संख्या में आगरा के लोग महाराष्ट्र, गुजरात में रहते हैं. मध्य प्रदेश, पंजाब में भी मामले बढ़ रहे हैं. होली पर इन राज्यों से आगरा आने वाले लोगों को सात दिन घर में ही क्वारंटीन रहना पड़ेगा. रेलवे स्टेशनों पर भी कोरोना की जांच होगी. वहां आने वाले यात्रियों का नाम पता और मोबाइल नंबर भी दर्ज किया जाएगा.

आगरा के जिलाधिकारी ने कहा कि 60 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिक टीका जरूर लगवाएं. उन्होंने कहा सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर नियमित टीकाकरण शुरू हो गया है. बुजुर्ग व बीमार लोगों में संक्रमित होने की ज्यादा आशंका होती है इसलिए टीका उनके लिए कवच का काम करेगा.  होली के त्योहार पर संक्रमण के मददेनजर लोगों से ज्यादा मेलजोल, सामूहिक समारोह में एकत्र होने से परहेज करने की अपील की गई है. डीएम ने कहा युवाओं से ही संक्रमण बच्चों में फैल सकता है. इसलिए होली पर कहीं बाहर होली खेलने न जाएं.






Source link