अब बांदा जेल होगा माफिया मुख़्तार अंसारी का नया ठिकाना, पंजाब से यूपी लाने का रोडमैप तैयार

91

मुख़्तार अंसारी की बांदा जेल में होगी वापसी

Mukhtar Ansari to be Brought to UP: मुख़्तार को कड़ी सुरक्षा के बीच बांदा जेल में रखा जाएगा. यह जानकारी डीजी जेल आनंद कुमार ने दी. उन्होंने बताया कि बांदा जेल में मुख़्तार को रखने की पूरी व्यवस्था हो गई है और उसकी सुरक्षा को लेकर कोई खतरा नहीं है.

लखनऊ. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद अब पंजाब (Punjab) सरकार रोपड़ जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की यूपी में वापसी तय हो गई है. मुख़्तार अंसारी को यूपी लाने के लिए पुलिस (Police) ने पूरी तैयारी कर ली है. उम्मीद है कि इसी हफ्ते किसी भी दिन मुख़्तार को यूपी लाया जा सकता है. मुख़्तार को कड़ी सुरक्षा के बीच बांदा जेल में रखा जाएगा. यह जानकारी डीजी जेल आनंद कुमार ने दी. उन्होंने बताया कि बांदा जेल में मुख़्तार को रखने की पूरी व्यवस्था हो गई है और उसकी सुरक्षा को लेकर कोई खतरा नहीं है.

दरअसल, मुख़्तार अंसारी के खिलाफ कई गंभीर मुक़दमे कोर्ट में लंबित है. जिसकी त्वरित सुनवाई के लिए यूपी सरकार उसे पंजाब से यूपी लाना चाहती थी, ताकि लंबित मुकदमों में उसकी पेशी कराकर जल्द से जल्द उनका निपटारा हो सके. लेकिन पंजाब सरकार लगातार उसकी सेहत का हवाला देकर  इंकार कर रही थी. जिसके बाद यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट की शरण ली, जहां से मुख़्तार अंसारी को यूपी भेजने का आदेश दिया गया.

पुलिस और STF  टीम जाएगी लाने
मुख़्तार अंसारी को पंजाब से यूपी लाने के लिए पुलिस की स्पेशल टीम जाएगी। माफिया डॉन को वापस यूपी भेजने के लिए पुलिस, STF और अन्य एजेंसियों ने कमर कस ली है. खबरों के अनुसार इसी मामले को लेकर एक हाई लेवल बैठक भी होगी, जिसमें यूपी लाने के रूट पर चर्चा की जाएगी. जानकारी के मुताबिक सड़क मार्ग से ही मुख़्तार को यूपी लाया जाएगा.मुख़्तार पर 16 केस दर्ज 

2017 के विधानसभा चुनाव में दिए गए हलफनामे के मुताबिक के मुताबिक उसके खिलाफ 16 मामले दर्ज हैं. जिनमे पांच हत्या और पांच में हत्या के प्रयास का केस भी शामिल है. उच्चतम न्यायालय में सरकार की तरफ से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता की दलील को आधार मानें तो मुख्तार पर कोई 30 एफआईआर दर्ज हैं. 14 मामलों में ट्रायल चल रहा है.

ऐसे पहुंचा रोपड़ जेल
मुख्तार अंसारी एमपी/एमएलए कोर्ट की हिरासत में बांदा में जेल में बंद थे. 2019 में दर्ज एफआईआर के आधार पर पंजाब पुलिस को मुख्तार अंसारी की तलाश थी. लिहाजा वह बांदा जेल पहुंच गई और जेल अधिकारियों ने मुख्तार को पंजाब पुलिस को सौंप दिया. तब से मुख्तार पंजाब की जेल में बंद हैं.







Source link