अखिलेश यादव- SP Chief Akhilesh yadava said in rampur Azam Khan may be only leader who is facing so many cases upas

93
रामपुर. उत्तर प्रदेश के रामपुर (Rampur) शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (Samajawadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष  अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी बचाने के लिए साइकिल यात्रा का शुभारंभ किया. ये यात्रा रोज कई जिलों से होते हुए लखनऊ में में समाप्त होगी. इस दौरान जनसभा को संबोधित करने से पूर्व मंच पर पहुंचते ही समस्त नेताओं कार्यकर्ताओं रामपुर की जनता का आभार व्यक्त किया. उन्होंने कहा आज का दिन बहुत ऐतिहासिक दिन है और यह ऐतिहासिक दिन मैं इसलिए बोल रहा हूं, हमारे समाजवादी पार्टी के साथी जो लाल टोपी पहन कर आए हैं और जो पहने रहते हैं, वह जानते हैं कि जब-जब साइकिल चली है उत्तर प्रदेश में बदलाव लाने का काम साइकिल ने किया है.

अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे समय याद है 2011 में जब समाजवादी पार्टी के लोगों को और हमें साइकिल चलानी पड़ी थी और लगातार समाजवादियों ने साइकिल चलाई. और उसका परिणाम यह हुआ उत्तर प्रदेश में उस समय जो सरकार थी, उस सरकार का सफाया हो गया. यह कहीं ना कहीं हमारे ऊपर भगवान की कृपा है समाजवादियों पर आशीर्वाद है और आज का आशीर्वाद तो दिखाई इसलिए दे रहा है अगर यह बादल ना होते तो शायद हम और आप यहां पर बैठ नहीं पाते.

कल की गर्मी का अंदाज लगाएं तो आज हम तो शायद हम और आप साइकिल भी ना चला पाते पसीने से नहा गए होते. कितनी गर्मी और तकलीफ में हम लोगों को साइकिल चलानी पड़ती लेकिन सोचो कि भगवान ने कितना बड़ा आशीर्वाद दिया कि एकदम मौसम बदल गया. साइकिल पर हमें पूरा भरोसा है. उत्तर प्रदेश का और इस देश का मौसम बदलेगा और यह सरकार रहने वाली नहीं है.

आजम खान इकलौते नेता जिन पर इतने मुक़दमे लगेसांसद आजम खान का नाम बिना लिए उन्होंने कहा और एक, दो मुकदमे लगे हों तो बात की जाए उनकी. एक-आध धारा लगी हो तो उसकी बात हो और केवल आदरणीय आजम खान साहब पर मुकदमे नहीं, आजम खान साहब के साथ जितने भी लोग हैं. अगर यह सरकार और प्रशासन पा गई तो उन पर गंभीर धाराओं में मुकदमे लगे झूठे मुकदमे लगे. ऐसी गंभीर धाराएं लगीं, जिसकी हम और आप लोग लोकतंत्र में कल्पना नहीं कर सकते थे.

अखिलेश यादव ने कहा कि मैं तो कहता हूं पत्रकार साथी सब जानते होंगे. अगर एक साथ किसी नेता पर इतने मुकदमें लगे होंगे तो शायद इकलौते नेता हैं पूरे देश में आदरणीय आजम खान साहब, जिन पर इतने मुकदमे एक साथ लग गए होंगे. वह मुकदमे इसलिए लगे हैं, उन्हें फंसाया इसलिए झूठा जा रहा है कि उन्होंने सबसे ऐतिहासिक काम किया है. उन्होंने हमारी आपकी इस पीढ़ी की चिंता करके नहीं काम किया है. उन्होंने काम किया है इसलिए कि आने वाली पीढ़ी हमारी अच्छी हो जाए उनका भविष्य अच्छा हो जाए इसलिए उन्होंने ऐसी शानदार यूनिवर्सिटी बनाई है.

उन्होंने कहा कि कौन बनाता ऐसी यूनिवर्सिटी? कोई नहीं बनाता यूनिवर्सिटी. और सोचो कहां बनी है यूनिवर्सिटी? समाजवादियों ने जब भी मौका मिला होगा नेताजी को समाजवादी पार्टी के लोगों को ऐसी ऐसी यूनिवर्सिटी और संस्थाएं बनाई हैं, जिससे आने वाले समय में जो आने वाली पीढ़ी है उसका भविष्य बेहतर हो याद के लिए नहीं आने वाली पीढ़ी के लिए यूनिवर्सिटी बनी है कि उनका भविष्य कैसे बेहतर हो. सीएम योगी पर तंज करते हुए अखिलेश ने आगे कहा कि उन्हें तो एक ही बात याद आती है कि ठोक दो. तो जिन्हें ठोक दो की भाषा याद हो तो उनसे क्या उम्मीद करोगे? जो लोग दूसरों को यह कहते हैं कि पटक कर मारा जाएगा, उनसे क्या उम्मीद करोगे न्याय की और लोकतंत्र की.

न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है

अखिलेश यादव ने कहा कि हमें भरोसा है कि अभी तक जहां-जहां अपनी बात रखने का मौका मिला है, जब कभी न्यायपालिका के सामने हमें मौका मिला उनसे हमें न्याय मिला है. हमें पूरा भरोसा है कि आने वाले समय में जब यही न्यायपालिका हमारी बात सुनेगी. आजम खान साहब की बातों को जानेगी न्यायपालिका हमें पूरा इमानदारी से न्याय देने का काम करेगी. यह लड़ाई लगातार चलती रहेगी. यह पहिया जो घूमेगा. हमारे इतिहास के और साइंस के छात्र हैं, वह जानते होंगे धरती पर और दुनिया में तब तक की है, जब पहिया आ गया, पहिए के आने से सब विचार जुड़ गया. नई-नई चीजें निकल कर के आ गई. नए-नए आविष्कार निकलकर के आ गए और जैसे-जैसे पहिया घूमा तरक्की और खुशहाली आगे आती रही.

उन्होंने कि और अब तो हम लोग इंटरनेट के जमाने में हैं. वहां एक पहिया नहीं लगता. व्हील व्हील व्हील तभी कहते हैं डब्लूडब्लूडब्लू डॉट. तो साइकिल में दो पहिए और आज के जमाने में तीन पहिए इंटरनेट में लगाने पड़ते हैं तब आगे रफ्तार बढ़ती है. याद रखना अब तो दिन भी नहीं बचे सरकार पर. अब सरकार पर कितने दिन बचे हैं गिनो. यह पंचायत का चुनाव खत्म होते ही आप देखोगे बंगाल का चुनाव खत्म होगा. अपने आप उत्तर प्रदेश का चुनाव शुरू हो जाएगा. वह तो कल शुरू होगा लेकिन समाजवादी पार्टी आज ही अपनी साइकिल चलाकर आने वाले समय में 2022 में सरकार बने उसका प्रचार आज से शुरू करेगी.

बंगाल में कौन सी ऐसी संस्था है जो पीछे न पड़ी हो

अखिलेश यादव ने कहा कि याद रखना साथियों, यह जो हमला हो रहा है, होने जा रहा है या लगातार हमला हो रहा है. रामपुर के लोगों पर यह सब पर हो रहा है. कोई नहीं बचेगा जिस पर हमला नहीं करा जाए. यह भारतीय जनता पार्टी के लोग किसी ना किसी तरीके से नहीं करें क्या? आपने बंगाल में नहीं देखा कि क्या हो रहा है? बंगाल में कौन सी संस्था नहीं है, जो पीछे नहीं पड़ी हो. कौन सी धारा न लगाई हों, कौन सी परेशानी ना पैदा की गई हो और देखा आपने क्या हुआ उनके पैर में चोट लग गई. पैर में इसलिए चोट लगी कि वह जानते हैं कि अगर पैर में चोट आ जाएगी तो कोई चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे. तो हमले अभी वहीं नहीं हुए हैं, हमले अभी हम पर और आप पर भी होने वाले हैं. कहीं ना कहीं साजिश के तहत और उसमें शामिल सरकार है.

मुरादाबाद बवाल पर बोले अखिलेश…

अखिलेश यादव ने मुरादाबाद में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बवाल का जिक्र करते हुए कहा कि बताओ मुरादाबाद में कोई मामूली हमला हुआ हम लोगों पर, आप पर. पहले उन्होंने लिफ्ट की लाइट बंद कर दी, जिससे लिफ्ट नहीं पहुंच पाए. वह खबर नहीं बनी कि होटल की लाइट किसने बंद कर दी? जिससे लिफ्ट से हम नहीं निकल पाए. फिर प्रेस ने जो किया, वह किसकी इशारे पर किया है? इसीलिए मैं कहना चाहता हूं यह हमले बंद नहीं होंगे. चुनाव तक समाजवादियों को तैयार रहना पड़ेगा ऐसे हमलों का मुकाबला करने को.

और अब तो दिन भी नहीं बचे हैं 300 दिन ही तो बचे हैं. चुनाव के 300 चुनाव के दिन 300 दिन से ज्यादा नहीं है और अगर बरसात का महीना निकाल दो बरसात का एक महीना निकाल दो पंचायत चुनाव के दो महीने निकाल दो 3 महीने निकाल दो तो बताओ कितने दिन बचे हैं. इसीलिए दिन भी कम बचे हैं जितनी परेशानी का सामना करना था सब हम लोगों ने कर लिया. अब जो कुछ होना है, सब अच्छा होगा. कुछ खराब नहीं होने वाला इसलिए मैं बधाई देना चाहता हूं अपने सभी कार्यकर्ता नेताओं को जो आज साइकिल चला रहे हैं.

जहां तक सवाल रामपुर के विकास का है तो यहीं पर बैराज बन रहा था. बैराज बन जाता तो पुल बन जाता. यहां के लोगों को सुविधा मिल जाती. आना-जाना आसान हो जाता. सब यहां आस-पास के लोग जो 3-4 विधानसभाओं के हैं उन्हें आराम मिल जाता. इस रास्ते से लेकिन पता नहीं सरकार क्या चाहती है? उस रास्ते को रोक करके उस विकास को रोक करके जो उस समय शुरू हुआ था आज भी वैसा का वैसा ही अधूरा पड़ा है. हम भरोसा दिलाते हैं जब समाजवादी सरकार आएगी तो विकास भी पूरे होंगे और उन योजनाओं को पूरा करने के लिए समाजवादी पार्टी काम करेंगी.



Source link